अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घरेलू नुस्खे से दूर होगा डेंगू व मलेरिया

- घरेलू काढ़ा दिलाएगा मौसमी बुखार से निजात - आयुर्वेद के साथ होम्योपैथिक दवा भी डेंगू, मलेरिया बुखार दूर भगाएगी लखनऊ। निज संवाददाता घरेलू नुस्खों से डेंगू और मलेरिया बुखार से आसानी से बचा जा सकता है। इसके लिए लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति थोड़ा जागरुक होने की जरुरत है। आयुर्वेद व होम्योपैथिक डॉक्टरों की माने तो कुछ घरेलू नुस्खों को आसानी से करके मच्छर जनित बीमारियों से बचा जा सकता है। बुखार से बचाएगा घर में बनाया काढ़ा टूड़ियागंज स्थित आयुर्वेद कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सुदीप बेदार ने बताया कि डेंगू के लिए आयुर्वेदिक काढ़ा नि:शुल्क दिया जाता है। इससे डेंगू और वायरल बुखार की संभावना कम हो जाती है। बताया कि दो खुराक काढ़ा के लिए लगभग छह इंच गिलोय का टुकड़ा, 8-10 काली मिर्च, एक बड़ी इलायची, 7-8 तुलसी की पत्ती, एक इंच अदरक एक गिलास पानी में उबालें। जब पानी एक चौथाई रह जाए तो उसे छानकर गर्म पानी की तरह पी लें। यह मौसमी बुखार में काफी लाभदायक होता है। मिट्टी तेल का करें छिड़काव यूपी आयुष सोसायटी के आयुर्वेद डॉ. बृजेश गुप्ता ने बताया कि घर की नालियों में मिट्टी का तेल छिड़काव करने से मच्छर व लार्वा नहीं पनपते हैं। दुनिया में करीब 10 करोड़ लोग डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया से प्रभावित होते हैं। एडीज मादा मच्छर के काटने से बीमारी होती है। इस मच्छर के काटने से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। बुखार से शरीर की हड्डियों में दर्द होता है। इसे ब्रेक बोन या हड्डी तोड़ बुखार कहते हैँ। होम्योपैथिक दवाओं से भी मिलेगा जल्द आराम होम्योपैथिक डॉ. अनुरुद्ध वर्मा ने बताया कि इस मौसम में वॉयरस के संक्रमण का खतरा अधिक रहता है। खासकर कुपोषित बच्चों व कमजोर लोगों पर मच्छर के काटने का असर ज्यादा पड़ता है। लोगों को छींक आना, बदन दर्द, थकान आदि समस्या बनी रहती है। इसमें सबसे जरूरी है कि बाजार की चीजें तली-भुनी, कटे व खुले फल आदि न खाएं। होम्योपैथिक दवाएं काफी कारगर हैं। जैसे इपीटोरियम पर्फ, एक्सटास, जिन्सीमियम, इनफ्लुनजिनम आदि दवाएं डॉक्टर की सलाह पर ही लें। क्योंकि डॉक्टर बुखार के साथ दूसरे लक्षणों को देखते हुए दवा की खुराक निर्धारित कर देते हैं। तीन दिन में दवा का काफी असर दिखने लगता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ayurved