DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश में कम हो जाती है प्रतिरोधक क्षमता

- आयुर्वेदिक कॉलेज में चरक जयंती समारोह मनाया गयालखनऊ। निज संवाददाता बारिश के मौसम में पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। इस मौसम में हल्का भोजन करना चाहिए। खुले भोजन से परहेज करें। इस समय शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। हरी सब्जियां का सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से बीमारी होने का खतरा कम होता है। यह जानकारी मंगलवार को आयुर्वेदिक कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. सुदीप बेदार ने दी। महर्षि चरक के चित्र पर किया माल्यार्पणटूड़ियागंज स्थित राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज में मंगलवार को चरक जयंती समारोह मनाया गया। इस मौके पर 'ख वैगुण्य एक खोज' विषय पर संगोष्ठी का आयोजन हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान धन्वंतरि की वंदना से हुआ। अतिथियों ने महर्षि चरक के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस मौके पर आयुर्वेद पाठ्यक्रम एवं मूल्यांकन निदेशक डॉ. सुरेश चंद ने कहा कि ख वैगुण्य शरीर में बीमारी पैदा करता है। ख वैगुण्य का अर्थ है शरीर में खाली रहने वाला स्थान। एकाग्र होकर करें कामकार्यक्रम में पूर्व निदेशक आयुर्वेद डॉ. केके ठकराल ने बताया कि शरीर और मन में सामंजस्य न स्थापित होने से बीमारी बढ़ती है। शरीर में होने वाले हार्निया, अपेंडिक्स, कैंसर, हाइड्रोसील आदि बीमारी ख वैगुण्य की वजह से होते हैं। मनुष्य को एकाग्र होकर प्रत्येक कार्य करना चाहिए। इस मौके पर डॉ. पीएस श्रीवास्तव, डॉ. यज्ञदत्त शुक्ला, डॉ. जयराम यादव, डॉ. हेमंत कुमार राय, डॉ. किरन मिश्रा, डॉ. विभा, डॉ. प्रीती, डॉ. मिथिलेश वर्मा, डॉ. रेखा बाजपेयी, डॉ. सुधा सिंह, डॉ. अन्नपूर्णा, डॉ. अंजना, डॉ. शशि आदि ने विचार व्यक्त किए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ayurved