अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयुर्वेद में शिक्षकों की कमी, छात्रों की पढ़ाई पर असर

- 10 वर्ष से आयुर्वेदिक प्रोफेसरों, रीडरों का नहीं हुआ प्रमोशन - पूरे प्रदेश में कई पद खाली, आयुष विभाग संविदा पर भर रहा पद लखनऊ। निज संवाददाता आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेजों में शिक्षकों की काफी कमी है। इससे प्रदेश भर के मेडिकल कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों की पढ़ाई पर खासा असर पड़ रहा है। यह इसलिए है, क्योंकि 10 वर्षों से होम्योपैथिक कॉलेजों के शिक्षकों की विभागीय प्रोन्नति नहीं हुई है। उधर, संविदा पर शिक्षक नियुक्त कर विभाग किसी तरह काम चलाने की कोशिश में लगा है। वरिष्ठता सूची तक नहीं तैयार प्रदेश के सभी आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेजों में इस समय शिक्षकों की कमी है। जानकारी के मुताबिक वर्ष 2008 से विभागीय प्रोन्नति (डीपीसी) नहीं कि गई है। विभाग के निदेशक, अपर निदेशक स्तर के अधिकारियों का यह हाल है कि वह आज तक कॉलेजों के प्रोफेसर, रीडर और लेक्चरर की वरिष्ठता सूची ही नहीं बना सके हैं। कुछ समय पहले अधिकारियों ने अनंतरिम सूची तो बनाई थी, लेकिन आज तक अंतिम वरिष्ठता सूची तक विभाग के अधिकारी नहीं बना पा रहे हैं। संविदा के बजाए प्रोन्नति की जाए राजकीय आयुर्वेदिक प्रांतीय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ. पीसी चौधरी ने बताया कि प्रोफेसर समेत विभिन्न शिक्षकों के 40 से 70 फीसदी पद खाली हैं। इनका कहना है कि विभाग जो पद लोकसेवा आयोग से भर्ती किए जाने हैं, वह करे। लेकिन कम से कम जो पद प्रोफेसर और रीडर के रिक्त हैं और विभागीय प्रोन्नति की जा सकती है। उन पदों को डीपीसी करके भरा जा सकता है। विभाग में संविदा पर 80 हजार रुपये में प्रोफेसर तैनात किए जा रहे हैं। इससे अच्छा रहेगा कि विभाग में प्रोन्नति करके प्रोफेसर पद भरे जाएं, जिससे विभाग पर वेतन का बोझ भी कम पड़ेगा। पूर्व मुख्य सचिव राजीव कुमार ने जनवरी, 2018 में सभी विभागों को डीपीसी करके रिक्त पद पहले भरने को कहा था, लेकिन आयुष विभाग के अधिकारी इस पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। होम्योपैथिक और यूनानी में डीपीसी करके रिक्त पद भर दिए गए हैं। वर्जन होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेजों में शिक्षकों के रिक्त पदों को मानक अनुरूप विभागीय प्रोन्नति से जल्द भरा जाएगा। इस पर काम चल रहा है। इस संबंध में शिक्षक उनसे सीधे मिल भी सकते हैं। मुकेश मेश्राम, सचिव, आयुष विभाग यह है स्थिति पद वर्तमान रिक्त प्रोफेसर (108) 22 86 रीडर (128) 59 69 लेक्चरर (277) 178 99

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ayurved