DA Image
26 फरवरी, 2020|1:07|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या : घूस मांगने वाले चिकित्सक को हटाया गया, सम्बद्धता समाप्त 

आयुष्मान भारत योजना की पात्र महिला से प्रसव के लिए आपरेशन में सुविधा शुल्क की मांग करने वाले चिकित्सक के खिलाफ  कार्रवाई की गई है। सीएमएस डॉ. एसके शुक्ल ने सुविधा शुल्क की मांग करने वाले डॉ. विजय सिंह की सम्बद्धता को समाप्त कर उन्हें मूल तैनाती स्थल मवई सीएचसी पर भेजने का निर्देश जारी किया है। डॉ. विजय कुमार के खिलाफ दो सदस्यीय टीम गठित कर जांच के भी निर्देश दिए गए हैं। 

बस्ती जनपद की निवासी ज्योति पत्नी जगदीश को प्रसव के लिए जिला महिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। ज्योति के परिजनों को आरोप है कि उनका परिवार आयुष्मान भारत योजना का लाभार्थी है। प्रसव के लिए बेहोशी के चिकित्सक डा. विजय कुमार ने दो हजार रुपए की मांग की। मांग पूरी न होने पर सही ढंग से आपरेशन नहीं किया। इसके कारण टांके से खून आने लगा। बाद में दोबारा उसे टांके लगाए गए। इसकी शिकायत हिन्दू युवा वाहिनी के नेता माता प्रसाद कसौधन ने सीएमएस डॉ. एसके शुक्ल व अयोध्या विधायक वेद प्रकाश गुप्त से की थी। 
अयोध्या विधायक श्री गुप्त ने इस प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए चिकित्सक के कृत्य को सरकार की योजना को बदनाम करने वाला माना। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आरोपी चिकित्सक के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। विधायक के निर्देश के बाद सीएमएस ने डा. विजय सिंह के खिलाफ दो सदस्यीय जांच टीम को प्रकरण की जांच के निर्देश दिए। डॉ. अरुण कुमार व डॉ.आरपी वर्मा  को जांच टीम में शामिल किया गया है।  इसके अतिरिक्त डॉ. विजय सिंह को  उनके मूल तैनाती स्थल मवई सीएचसी के लिए कार्यमुक्त कर दिया गया।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ayodhya: The bribe doctor was removed affiliation ended