DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या : सरफेस पार्किंग मामले में अफसरों ने खेला ‘खेल’

रामायण सर्किट योजना में स्वीकृत सरफेस पार्किंग के निर्माण के लिए खरीदी गई जमीन में अफसरों के खेल की परतें अब उघड़ने लगी हैं। इसका जीता जागता प्रमाण जनसुनवाई के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए शासन की ओर से निर्धारित समन्वित शिकायत निवारण प्रणाली (आईजीआरएस) का पोर्टल है। इस पोर्टल पर पहले शिकायतकर्ता की ओर से जिलाधिकारी को दिए गए आवेदन के सम्बन्ध में दिए गए आदेश को अपलोड किया गया।

पुन: आदेश के क्रियान्वयन के लिए गठित दो सदस्यीय संयुक्त टीम की आख्या को भी अपलोड किया गया है।  मालूम हो कि सरफेस पार्किंग के लिए पर्यटन विभाग की ओर से 19 सितम्बर 2018 को करीब आठ करोड़ की लागत से ग्राम मांझा मीरापुर द्वाबा में हाइवे से अयोध्या आने वाले मार्ग पर जमीन खरीदी गई है। इस जमीन में मिलीभगत से फर्जी चौहदी दर्शाकर बैनामा ही नहीं कराया गया बल्कि अब अवैध रूप से कब्जा कर निर्माण भी प्रारम्भ कर दिया गया है। 

इस निर्माण को रोकवाने के लिए शिकायतकर्ता आकृति पत्नी भरत माखेजा ने जिलाधिकारी को आठ मार्च  2019 को प्रार्थना पत्र दिया गया। इस प्रार्थना पत्र पर जिलाधिकारी अनुजकुमार झा ने सहायक अभिलेख अधिकारी एवं क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी की संयुक्त टीम गठित कर आदेशित किया कि मौके की जांच कर सही स्थल पर निर्माण सुनिश्चित कराएं। इसके साथ यदि अवैध निर्माण हो रहा है तो रुकवाकर आख्या दें। इस आदेश के अनुपालन में जांच अधिकारियों ने 14 मार्च 2019 को आख्या प्रेषित की। डीएम के आदेश और अनुपालन में आई आख्या दोनों को आईजीआरएस पोर्टल पर अपलोड कर दिया गया है।

जांच टीम के अफसरों की संयुक्त आख्या में कहा कि शिकायतकर्ता को संदर्भित बैनामे को निरस्त कराने हेतु स्व्यं सक्षम न्यायालय में वाद योजित कर अनुतोष प्राप्त किया जाना चाहिए। जहां तक विवादित भूमि पर पर्यटन विभाग द्वारा किए जा रहे निर्माण को रोके जाने की बात है, के संदर्भ में भी अवगत कराना है कि शिकायतकर्ता को सक्षम कोर्ट से विधिक प्रक्रिया के अन्तर्गत निर्माण रोके जाने के लिए आवेदन कर अनुतोष प्राप्त करना चाहिए।
इससे पहले प्रश्नगत भूमि जो  क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी के नाम खरीदी गई है, का नामान्तरण सहायक अभिलेख अधिकारी ने ही अस्वीकार कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ayodhya: Officers played game in Surface parking case