ayodhya DM and mirzapur DM given notice - फ्लैग....गोवंश की मौतों पर मुख्यमंत्री सख्त अयोध्या व मिर्जापुर के डीएम को नोटिस, आठ अधिकारी निलंबित DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्लैग....गोवंश की मौतों पर मुख्यमंत्री सख्त अयोध्या व मिर्जापुर के डीएम को नोटिस, आठ अधिकारी निलंबित

--मिर्जापुर के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी एके सिंह, मिर्जापुर नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी मुकेश कुमार और नगर अभियंता राम जी उपाध्याय को निलंबित -अयोध्या के सीवीओ व नगर आयुक्त को नोटिस--वीडीओ मिल्कीपुर, उपमुख्य पशु चिकित्साधिकारी मिल्लीपुर,ग्राम पंचायत अधिकारी मिल्कीपुर, अयोध्या के कांजी हाउस प्रभारी डा. उपेंद्र कुमार व डा. विजेंद्र कुमार निलंबितराज्य मुख्यालय। विशेष संवाददातामुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी संख्या में गायों की मौत के मामले को गंभीरता से लिया है। उन्होंने अयोध्या व मिर्जापुर के डीएम को गोवंश की मौतों के संबंध में नोटिस जारी किया है। वहीं मिर्जापुर के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी एके सिंह, मिर्जापुर नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी मुकेश कुमार और नगर अभियंता राम जी उपाध्याय को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही मुख्यमंत्री ने प्रयागराज व मिर्जापुर के कमिश्नर से गायों की मौतों के कारणों की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।मुख्यमंत्री ने हाल के दिनों में अयोध्या, हरदोई, रायबरेली, मिर्जापुर, प्रयागराज व सीतापुर समेत कई जिलों में गायों की मौत पर रविवार को प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर यह कार्रवाई की। सीएम ने चेतावनी दी है कि भविष्य में लापरवाह लोगों पर गोवध अधिनियम एवं पशु क्रूरता निवारण के तहत कार्रवाई होगी। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने गौशालाओं में उचित इंतजाम न होने के कारण अधिकारियों को जमकर आड़े हाथ लिया। उन्होंने अयोध्या के डीएम अनुज झा, नगर आयुक्त व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को लापरवाही बरतने के मामले में कारण बताओ नोटिस दी है। वहीं मिल्कीपुर के उपमुख्य पशु चिकित्साधिकारी, ग्राम पंचायत अधिकारी मिल्कीपुर, अयोध्या के कांजी हाउस प्रभारी डा. उपेंद्र कुमार व डा. विजेंद्र कुमार निलंबित कर दिया है। गोवंश आश्रय स्थल के संचालन, निरीक्षण व भरण पोषण की जिम्मेदारी डीएम व सीवीओ की होगी। मुख्यमंत्री ने लखनऊ के डीएम को निर्देश दिए हैं कि लखनऊ विकास प्राधिकरण, आवास विकास व जिला प्रशासन मिलकर निराश्रित गोवंश को पशु आश्रय स्थल व कान्हा उपवन में संरक्षित करें। मुख्यमंत्री ने सुलतानपुर के बारे में कहा कि वहां निराश्रित गोवंश के रखरखाव, चारा आदि के बारे में उचित कार्रवाई करें। जो गो पालक दूध निकाल कर पशुओं को सड़कों पर छोड़ देते हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। निराश्रित गोवंश रखने पर 900 रुपये प्रतिमाह गो पालकों को दिए जाएं।साथ ही रायबरेली व हरदोई के डीएम को कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। सभी जिलों के डीएम से कहा है कि वे गौशालाओं का निरीक्षण कर व्यवस्था दुरुस्त करें। हाल के दिनों में बाराबंकी, रायबरेली, हरदोई, जौनपुर, आजमगढ़, सुलतानपुर, सीतापुर, बलरामपुर और प्रयागराज में गौशालाओं में बदइंतजामी के चलते गायों की मौतें हो गई थीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ayodhya DM and mirzapur DM given notice