DA Image
25 अक्तूबर, 2020|2:06|IST

अगली स्टोरी

गंभीर मरीजों को कोरोना से बचाने की कोशिश

default image

लखनऊ प्रमुख संवाददातासामान्य गंभीर मरीजों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए डीएम ने दिशा निर्देश जारी किए हैं। दिल, लिवर, किडनी व अन्य गंभीर समस्याओं के मरीज कोरोना की चपेट में आ रहे हैं तो उनकी जान बचाना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में डीएम ने सभी प्राइवेट क्लीनिक और अस्पतालों को चिट्ठी लिखी है।इसमें क्लीनिक से लेकर अस्पतालों तक के प्रत्येक कर्मचारी का कोविड टेस्ट हर हफ्ते कराने का निर्देश दिया गया है। इसके दो दिन पूर्व इस दिशा में आदेश भी जारी किए गए थे। बावजूद इसके अस्पतालों ने गंभीरता से नहीं लिया। अब चिट्ठी लिखकर डीएम ने यह साफ कर दिया कि समय रहते टेस्ट कराएं नहीं तो औचक जांच भी की जाएगी। लापरवाही मिली तो कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन को यह रिपोर्ट मिली है कि कई अन्य बीमारियों के मरीज जिनको कोविड नहीं हैं उनमें अस्पताल भर्ती होने के कुछ दिन बाद लक्षण प्रकट हो रहे हैं। इसका मतलब यह हुआ कि वे अस्पताल में ही संक्रमण की चपेट में आए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Attempt to save critical patients from corona