DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दवा व्यवसाइयों से वसूली में चार गिरफ्तार, दो फरार

Fraud, Crime, Elimination

एंटी करप्शन के सदस्यों ने फर्जी अधिकारी बनकर दो मेडिकल स्टोरों पर छापेमारी की। इसी दौरान ड्रग यूनियन के सदस्यों ने इनमें से कुछ को दबोचकर पुलिस के हवाले कर दिया। दो लोग भागने में कामयाब रहे। मेडिकल स्टोर मालिक की तहरीर पर जलालपुर पुलिस ने दीपक चौरसिया समेत आधा दर्जन लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।
ऑल इंडिया एंटी करप्शन क्राइम कंट्रोल भ्रष्टाचार अपराध उन्मूलन परिषद के नाम से परिचय पत्र दिखाकर दीपक चौरसिया हेड यूपी के नेतृत्व में बुधवार को 11 बजे अतुल कुमार यादव, चन्द्रजीत यादव व विकास कुमार समेत आधा दर्जन युवकों ने जलालपुर नगर के यादव चौराहा के पास समा मेडिकल स्टोर व नवाब मेडिकल स्टोर पर बारी-बारी से निरीक्षण के नाम पर मेडिकल लाइसेन्स, दवाओं के बिल व दवाओं को अनाधिकृत बताकर एक लाख रुपए की मांग की। दुकानदारों ने इसकी सूचना ड्रग यूनियन के अध्यक्ष हाजी शोएब को दी। यूनियन अध्यक्ष के नेतृत्व में कई लोगों ने मौके पर पहुंचकर जालसाजों को पकड़ लिया, दो लोग भागने में सफल रहे। 
पकड़े गए जालसाजों को पुलिस के हवाले कर दिया गया। पीड़ित दुकानदार मोहम्मद हैदर व जीशान हैदर ने घटना के बाबत थाने में तहरीर दी है। प्रभारी निरीक्षक नीरज सिंह ने बताया कि इस अनाधिकृत धंधे में संस्था का तथाकथित अध्यक्ष समेत सदस्य भी शामिल हैं, जिनके निर्देशन में पकड़े गए युवक मेडिकल स्टोर की जांच कर रहे थे। इतना ही नहीं अध्यक्ष की ओर से पुलिस को फोन करके अवैधानिक कृत्य को सही बताया जा रहा था। उन्होंने बताया कि दवा व्यापारी की तहरीर पर संस्था के अध्यक्ष समेत आधा दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:arrested