DA Image
20 अक्तूबर, 2020|3:28|IST

अगली स्टोरी

सीबीआई स्पेशल कोर्ट के फैसले के खिलाफ एक महीने के भीतर हाईकोर्ट में दाखिल होगी अपील

default image

विशेष संवाददाता राज्य मुख्यालयअयोध्या के विवादित ढांचे के विध्वंस प्रकरण में मुस्लिम पक्ष की ओर से एक माह के भीतर अपील दायर होगी। हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में दायर की जाने इस अपील की पैरवी आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड करेगा। बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के संयोजक जफरयाब जीलानी ने यह जानकारी दी।उन्होंने बताया कि सीबीआई स्पेशल कोर्ट द्वारा विवादित ढांचा विध्वंस मामले में सभी अभियुक्तों को बरी किये जाने के बाबत बुधवार को दिये गये फैसले की प्रति उन्हें मिल गयी है। अब वह इस फैसले का बारीकी से अध्ययन कर रहे हैं। इस फैसले में वह सभी बिन्दु चिन्हित किए जाएंगे जिनके आधार पर हाईकोर्ट में अपील दायर होगी। इस पूरी प्रक्रिया में एक माह का समय लग सकता है।श्री जीलानी ने यह भी कहा कि तैयारी जल्दी पूरी हो गई तो अपील पहले भी दाखिल की जा सकती है। उन्होंने कहा कि यह अपील उन मुसलमानों की तरफ से होगी, जिनके 6 दिसम्बर 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचे के विध्वंस के बाद मकान जलाए गए, मस्जिदों को नष्ट किया गया और हत्याएं की गई। श्री जीलानी ने फिर दोहराया कि सीबीआई स्पेशल कोर्ट का फैसला साक्ष्यों और कानून के खिलाफ दिया गया फैसला है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Appeal against CBI Special Court 39 s decision will be filed in High Court within a month