DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अम्बेडकरनगर : सम्पत्ति के आगे रिश्ते हो चले हैं बेमानी

अपनों ने मुंह फेरा

भाई को ही लावारिस बता जिला अस्पताल में छोड़ा

अम्बेडकरनगर। हिन्दुस्तान संवाद

सम्पत्ति के आगे रिश्ते बेमानी हो चले हैं। सगे भाई ने हिस्से की सम्पत्ति के लिए कई दिन पहले भाई को ही लावारिस बताकर और जिला अस्पताल में भर्ती कराकर रामभरोसे छोड़ दिया। धन-सम्पदा के आगे खून के रिश्ते के बेमानी होने के सच का और रिश्तों के दागदार होने का हकीकत करने वाले रंग बहादुर सिंह नावल्द हैं।

तहसील टांडा के एक गांव निवासी रंग बहादुर का अपनों के नाम पर एकमात्र भाई है। भाई ने अपने इस शारीरिक रूप से अक्षम भाई रंग बहादुर को लावारिश करार देकर बीते 12 जून 2018 को इलाज के जिला अस्पताल के भर्ती करवाकर भाग गया। एक माह से अधिक समय तक जिला अस्पताल में भर्ती अपने सगे भाई को फिर कभी देखने तक नहीं आया। उसने वापस आकर अपने बीमार भाई की तरफ मुड़कर कर देखना तो दूर अस्पताल के नम्बर से भी हाल चाल नहीं लिया। भाई ही नहीं लगभग एक महीने तक इलाज करने वाले जिला अस्पताल प्रशासन ने भी रंग बहादुर को अब रामभरोसे छोड़ दिया। आरोप है कि बीते दिनों उसे वार्ड से बाहर निकाल दिया गया था मगर अफसरों के दबाव में फिर से भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ambedkarnagar: in front of property Relations are gone