अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आवंटियों की एनओसी पर ही तीसरे को मिलेगी रहने की अनुमति

बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय (बीबीएयू) प्रशासन ने एक कमरे में तीसरे छात्र को रहने की अनुमति देने का फैसला किया है। बशर्ते कमरे में पहले से रह रहे दो छात्र को कोई आपत्ति नहीं हो। यह अनुमति कुछ शर्तो के साथ होगी।

विश्वविद्यालय में वर्तमान शैक्षिक सत्र में छात्रावास की भारी किल्लत हो गई है। हालात यह है कि एक विभाग से अधिक से अधिक दो छात्रों को ही छात्रावास में रहने की जगह मिल पाई है। वह भी केवल नवआगन्तुक छात्रों को कमरे आवंटित हुए हैं। पहले से पढ़ रहे पुराने छात्रों को कमरे नहीं दिए गए हैं। कमरों की भारी कमी के बाद बीबीएयू के छात्र कल्याण अधिष्ठाता प्रो. बीर सिंह भदौरिया ने फैसला एक कमरे में दो छात्रों के अलावा तीसरे को भी रहने की अनुमति देने का फैसला लिया है। प्रो. भदौरिया ने बताया कि छात्रों की परेशानी को देखते हुए यह कदम उठाया है। अगर किसी छात्र को कमरा आवंटित नहीं हुआ है और वह छात्रावास चाहता है, तो उसे कमरे में रहने वाले दोनों आवंटी छात्रों से लिखाकर लाना होगा कि उन्हें उसके रहने पर कोई आपत्ति नहीं है। इसके बाद हम तीसरे छात्र को सशर्त उनके साथ रहने की अनुमति दे देंगे।

एक ही कोर्स और एक ही सेमेस्टर का होना चाहिए छात्र

प्रो. भदौरिया ने बताया कि कमरे में पहले से रहने वाले आवंटी छात्रों का अगर कोर्स एमएससी है तो तीसरे छात्र का भी कोर्स एमएससी होना चाहिए। एमएससी का विषय कोई भी हो। कोर्स के साथ तीसरे छात्र का सेमेस्टर भी दोनों आवंटी छात्रों के सेमेस्टर से मेल खाना चाहिए, यानि दोनों छात्र दूसरे सेमेस्टर के है तो तीसरे छात्र को भी दूसरे सेमेस्टर का होना जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Allotments will be allowed only on the NOC of the third