अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अखिलेश के बंगले में तोड़फोड़ पर राज्यपाल सख्त, कहा- हो कड़ी कार्रवाई

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अखिलेश यादव ने सरकारी बंगला खाली किया था।

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने सोमवार को यूपी सरकार से कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आवंटित सरकारी बंगले में तोड़फोड़ के मामले में कार्रवाई की जाए। राज्यपाल नाइक ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आवंटित आवास खाली किए जाने से पहले उसमें की गई तोड़फोड़ का मामला अनुचित और गंभीर है। सरकार सरकारी सम्पत्ति में नुकसान पहुंचाने के मामले में समुचित कार्रवाई करे। राज्यपाल राम नाईक ने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक चिट्ठी लिखी है।

अखिलेश यादव ने कहा- बीएसपी से गठबंधन को हर कुर्बानी के लिए तैयार

राज्यपाल ने इसमें कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को 4 विक्रमादित्य मार्ग पर आवंटित आवास को खाली किए जाने से पूर्व उसमें की गई तोड़फोड़ और उसे क्षतिग्रस्त किए जाने का मामला मीडिया और जनमानस में चर्चा का विषय बना हुआ है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित सरकारी आवास राज्य संपत्ति के कोटे में आते हैं। इनका निर्माण व रख-रखाव आम जनता द्वारा भरे जाने वाले टैक्स से होता है। उन्होंने कहा कि राज्य सम्पत्ति को क्षति पहुंचाने पर राज्य सरकार द्वारा कानून के हिसाब से समुचित कार्रवाई करनी चाहिए।

एलानः बसपा से गठबंधन रहेगा, बीजेपी को जीरो पर लाएंगे- अखिलेश-VIDEO

राज्यपाल ने उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को राज्य सरकार द्वारा आवंटित आवासों को खाली किए जाने के मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए सोमवार को राज्य सम्पत्ति विभाग के अधिकारियों को बुलाकर जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित आवासों की वीडियोग्राफी कराई गई है और 4 विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी आवास में तोड़फोड़ होने की बात भी सामने आई है।  

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Akhilesh Yadav Bungalow destruction case: governor ram naik says- UP govt should take action