DA Image
13 जुलाई, 2020|1:02|IST

अगली स्टोरी

नाम बदलने से नहीं सुधरेगी कानून-व्यवस्था : लल्लू

default image

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि कानून व्यवस्था दुरुस्त करने के नाम पर नई प्रणाली लाने से कुछ नहीं होगा, बल्कि सरकार को अपनी नीयत बदलनी होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून नाम की कोई चीज नहीं बची है। लखनऊ में एक नौजवान वकील की हत्या हो गई, पुलिस बस तमाशा देख रही है।

उन्होंने नोएडा व लखनऊ में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू किये जाने को लेकर कहा कि इस तरह के बदलाव से अपराधी नियंत्रण में नहीं आयेंगे। इसके लिए सरकार को अपनी मंशा बदलनी होगी। प्रदेश में दो-दो उपमुख्यमंत्री व्यवस्था के नाम पर बनाए गये थे लेकिन पूरा प्रदेश नर्क हो गया है। इसी तरह पुलिस अधिकारियों का नाम बदलकर कानून व्यवस्था को सुधारने के नाम पर कुछ नहीं किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि राजधानी लखनऊ व नोएडा तक में हत्या-बलात्कार और लूट की घटनाएं आम हो गई हैं। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। उन्होंने इलाहाबाद में यूसुफपुर में विजय शंकर तिवारी के पूरे परिवार की हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि पुलिस अभी तक इस हत्याकांड का खुलासा नहीं कर पाई। नोएडा में गौरव चंदेल की हत्या हुई लेकिन पुलिस कार्रवाई लचर रही। राज्य सरकार लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की आजादी को कुचलने के लिए साजिश रच रही है, जिसको जनता स्वीकार नहीं करेगी।