class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकी हमले से निपटने के अभ्यास में एटीएस पास

एयरपोर्ट पर गुरुवार को हुए अभ्यास में एंटी टेरेरिज्म स्क्वायड (एटीएस) अव्वल रहा। इसके पूर्व अलग-अलग एजेंसियों की किसी घटना पर प्रतिक्रिया (रेस्पांस टाइम) जानने के लिए विमान अपहरण की सूचना प्रसारित की गई। सूचना मिलने के कुछ मिनटों में ही कई गाड़ियों में बुलेटप्रूफ जैकेट और उपकरण लेकर पहुंचे एटीएस के कमांडों की तत्परता देखकर एयरपोर्ट अधिकारियों का सीना गर्व से चौड़ा हो गया।

एयरपोर्ट से दिन में 11:30 बजे सूचना प्रसारित की गई कि एबीसी एयरवेज की उड़ान संख्या एबीसी 123 हाईजैक हो गई है। यह उड़ान जयपुर से कोलकाता जा रही थी। आतंकियों की संख्या चार है जिनके पास हथियार हैं। पायलट ने विमान को आपात परिस्थितियों में लखनऊ के चौ. चरण सिंह अन्तरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उतारने की अनुमति मांगी है। यह विमान 12:05 बजे रनवे पर उतर जाएगा। बाद में एयरपोर्ट निदेशक एके शर्मा ने बताया कि यह ‘मॉकड्रिल यानी अभ्यास था। इसके बाद सभी सुरक्षाकर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए।

वायरलेस पर कहा आतंकियों ने तिहाड़ जेल से कैदी छुड़ाने की मांग रखी

वायरेस पर यह भी संदेश प्रसारित किया कि विमान हाईजैक करने वालों ने 200 करोड़ रुपए की मांग रखी है। साथ ही तिहाड़ जेल में बंद अपने नेताओं को छुड़वाने की भी मांग शामिल है। विमान में 157 यात्री हैं जिनमें महिलाएं और बच्चे शामिल हैं।

20 मिनट में पहुंच गई सुरक्षा

सूचना प्रसारित होते ही सबसे पहले एटीएस के कमांडो एयरपोर्ट पहुंचे। इसके बाद प्रशासन और पुलिस के अफसर भी पहुंच गए। रनवे को चारों ओर से घेर लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:airport
स्टैफर्ड स्कूल में सशस्त्र सेना झण्डा दिवसशिक्षा के स्तर में सुधार के लिए तैयार हो नियामक मंच