After all Pooja and Navjot got tickets for the world championship - बिना पसीना बहाए आखिर पूजा और नवजोत को विश्व चैंपियनशिप का टिकट DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना पसीना बहाए आखिर पूजा और नवजोत को विश्व चैंपियनशिप का टिकट

 इस बार अर्जुन पुरस्कार के लिए चुनी गई पहलवान पूजा ढाण्डा और एशियाई चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली देश की पहली महिला पहलवान नवजोत कौर को कजाकिस्तान में होने वाली सीनियर विश्व चैंपियनशिप का टिकट मिल ही गया। दोनों ही पहलवानों के भार वर्ग में अन्य कोई पहलवान न होने के कारण उन्हें बिना पसीना बहाए ही कामयाबी मिल गई। भारतीय खेल प्राधिकरण के सेंटर में सोमवार को हुए नॉन ओलंपिक कैटेगरी के ट्रायल में पूजा व नवजोत कौर के अलावा ललिता और कोमल ने भी ट्रायल में उम्दा प्रदर्शन करते हुए विश्व चैंपियनशिप खेलने का अधिकार हासिल किया।

सुबह से सभी पहलवान ट्रायल के लिए तैयार थीं। सात बजे ही बॉडी वेट हुआ। करीब 11 बजे ट्रायल शुरू हुए। सोमवार को  55, 59, 65 और 72 किलोग्राम भार वर्ग के ट्रायल हुए। ये सभी भार वर्ग ओलंपिक में नहीं होती हैं। ओलंपिक में जो छह भार वर्ग के मुकाबले होते हैं उसके लिए भारतीय टीम का ट्रायल 28 जुलाई को हुए। इसमें विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, सीमा, दिव्या काकरान, सरिता और किरन का भारतीय टीम में चयन हो गया था।

पूजा व नवजोत  ने मौके का फायदा उठाया

ओलंपिक कैटेगरी में पूजा ढाण्डा ओलंपिक कैटेगरी में 57 किलोग्राम भार वर्ग में उतरी थीं। उन्हें सरिता ने हराकर विश्व चैंपियनशिप का टिकट हासिल किया था। इसके बाद पूजा ने पूजा दो किलोग्राम  भार वढ़ाकर 59 किलोग्राम यानी नॉन ओलंपिक कैटेगरी के ट्रायल में दावा पेश किया। पर इस भार वर्ग में कोई दूसरी पहलवान नहीं थी। ऐसे में वह बिना लड़े ही विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई कर लिया।

वहीं नवजोत कौर ओलंपिक कैटेगरी के ट्रायल में 68 किलोग्राम की फाइनल बाउट में दिव्या काकरान के हाथों हार गई थीं। अब नवजोत कौर ने तीन किलोग्राम भार कम कर 65 किलोग्राम भार वर्ग में नॉन ओलंपिक कैटेगरी में उतरीं। उनके भार वर्ग में भी कोई नहीं था। वह भी बिना पसीना बहाए भारतीय टीम में चुन ली गईं।

कोमल व ललिता को लड़ना पड़ा

कोमल और ललिता की किस्मत पूजा व नवजोत की तरह नहीं थी। कोमल व ललिता को मुकाबला करना पड़ा। ललिता ने 55 किलोग्राम के ट्रायल की फाइनल बाउट में मीनाक्षी को 7-1 से शिकस्त दी। वहीं कोमल ने फाइनल बाउट में निक्की का कांटे की टक्कर में 3-2 से पराजित किया।

इन्हें नहीं मिला मौका

हॉल ही में रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इण्डिया ने ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक समेत करीब 25 पहलवानों को इसलिए निष्कासित कर दिया कि वह बिना  बताए राष्ट्रीय कैम्प से गायब थीं। इनमें से कई पहलवानों को नॉन ओलंपिक कैटेगरी में सोमवार को  विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई ट्रायल में हिस्सा लेना था। पर अब इन्हें ट्रायल में हिस्सा नहीं लेने दिया जाएगा। इनमें 59 किलोग्राम में मंजू, 65 किलोग्राम में अनीता और 55 किलोग्राम में पिंकी जैसी बेहतरीन पहलवान भी शामिल हैं। रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इण्डिया के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि इन पहलवानों के लिए यह एक सबक है। इसके बाद भी इनमें सुधार नहीं आया तो इनके राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खेलने पर भी प्रतिबंध लगाया जाएगा।

 

विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वाली भारतीय टीम :

सीमा (रेलवे) : 50 किलोग्राम

विनेश फोगाट (रेलवे) : 53 किलोग्राम

ललिता (रेलवे) : 55 किलोग्राम

सरिता (रेलवे) : 57 किलोग्राम

पूजा ढाण्डा (हरियाणा) : 59 किलोग्राम

 साक्षी मलिक (रेलवे) : 62 किलोग्राम

नवजोत कौर (रेलवे) : 65 किलोग्राम

दिव्या काकरान (उत्तर प्रदेश) : 68 किलोग्राम

कोमल (हरियाणा) : 72 किलोग्राम

किरन (रेलवे) : 76 किलोग्राम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After all Pooja and Navjot got tickets for the world championship