accident - सड़क हादसों में युवक समेत तीन लोगों की मौत, तीन जख्मी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क हादसों में युवक समेत तीन लोगों की मौत, तीन जख्मी

- ठाकुरगंज के बालागंज में तेज रफ्तार वाहन ने दूधिए को कुचला, मौत

लखनऊ। निज संवाददाता

हजरतगंज के सिकंदरबाग चौराहे पर तेज रफ्तार वाहन की टक्कर से बाइक सवार दानिश (18)की मौत हो गई। जबकि इस हादसे में उसका भाई और दो अन्य जख्मी हो गए। पुलिस ने उन्हें ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया है। उधर, हजरतगंज के मेफेयर तिराहे पर वाहन ने सड़क पार कर रहे दिवाकर मिश्रा (45)को रौंद डाला। जिससे उनकी मौत हो गई। इसके अलावा ठाकुरगंज के बालागंज में वाहन की टक्कर से साइकिल सवार दूधिए अमर सिंह यादव (50)की मौत हो गई।

खदरा मदेयगंज निवासी स्वर्गीय जमील का बेटा आमिर और दानिश विक्की नामक व्यक्ति के साथ शादी में डेकोरेशन का काम करते थे। विक्की के मुताबिक शनिवार रात दानिश, आमिर, मनीष और सैफ के साथ एक ही बाइक पर बैठकर लौट रहे थे। सिकंदरबाग चौराहे पर तेज रफ्तार वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। जिससे चारों लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए। उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने दानिश को मृत घोषित कर दिया। जबकि आमिर, सैफ और मनीष की हालत नाजुक बनी हुई है। चारों लोग एक समारोह से होकर वापस लौट रहे थे।

परिवार पर टूटा गमों का पहाड़

करीब डेढ़ माह पहले पिता जमील की बीमारी से मौत हो गई थी। जमील के दोनों बेटे परिवार का खर्च उठा रहे थे। दानिश की मौत की खबर मिलते ही मां सलमा के सिर पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा। वह अभी पति की मौत के दुख से उबर भी नहीं पाई थी कि बेटे की मौत हो गई।

सड़क पार कर रहे शख्स को ठोकर मारी, मौत

डालीगंज निवासी दिवाकर मिश्रा हजरतगंज स्थित एक दुकान पर काम करते थे। रविवार सुबह वह पैदल जा रहे थे। मेफेयर तिराहे पर सड़क पार करते समय तेज रफ्तार वाहन ने उन्हें कुचल दिया। पुलिस ने उन्हें अस्पताल ले गई। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उनकी शिनाख्त करते हुए बेटे राहुल को जानकारी दी। परिवार में पत्नी नन्दरानी और बेटा है।

हादसे में साइकिल सवार दूधिए की मौत

ठाकुरगंज के बालागंज माला कॉलोनी में शनिवार रात तेज रफ्तार वाहन ने साइकिल सवार अमर सिंह यादव को टक्कर मार दी। वह काफी देर तक सड़क पर पड़े तड़पते रहे। पुलिस उन्हें अस्पताल ले गई। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने उनके पास से मिले मोबाइल से पहचान की। परिवार में पत्नी राजकुमारी, सात बेटियां और बेटा सरवन है। बेटे का कहना है कि पिता रोज दूध बांटने के बाद रात करीब 11 बजे तक घर आते थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:accident