DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नगर निगम के ट्रक ने स्कूटी सवार युवती और बच्ची को टक्कर मारी

- गोमतीनगर स्थित स्कूल की छुट्टी के बाद युवती बच्ची के साथ जा रही थी

लखनऊ। निज संवाददाता

महानगर के छन्नीलाल चौराहे पर तेज रफ्तार नगर निगम का कूड़ा उठाने वाले ट्रक ने स्कूटी सवार युवती और बच्ची को टक्कर मार दी। इस हादसे में बच्ची का पैर टूट गया जबकि युवती चोटिल हो गई। राहगीरों की मदद से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस का कहना है कि उनके पास अभी तक कोई तहरीर नहीं आई है। शिकायत मिलने पर आरोपी ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बाराबंकी के सिविल लाइन निवासी मंजूर अहमद चकबंदी विभाग में कार्यरत हैं। उनकी पत्नी डॉ. मेहविश वारसी अलीगंज स्थित एक निजी अस्पताल में हैं। उनकी चार वर्षीय बेटी खुल्दा मंजूर विराजखण्ड स्थित एक निजी स्कूल में नर्सरी की छात्रा है। मेहविश खुल्दा स्कूल छोड़ने के बाद अस्पताल चली जाती है। छुट्टी के बाद वह खुल्दा को लेकर वापस अस्पताल आ जाती हैं।

हादसे में मासूम का टूटा पैर

मेहविश के मुताबिक बुधवार को वह अस्पताल में व्यस्त थी। खुल्दा की छुट्टी के वक्त उन्होंने अलीगंज के सेक्टर क्यू निवासी दोस्त प्रकृति मिश्रा से उसको लाने के कहा। इस पर प्रकूति अपनी स्कूटी से उसे लेकर अस्पताल की ओर आ रहीं थी। छन्नीलाल चौराहे के पास तेज रफ्तार कूड़ा उठाने वाले ट्रक ने प्रकृति की स्कूटी में टक्कर मार दी। जिससे दोनों छिटक कर सड़क पर गिरे। इस हादसे में खुल्दा एक पैर टूट गया जबकि प्रकृति घायल हो गई। हादसे के बाद आरोपी ड्राइवर ट्रक लेकर भाग निकला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:accident