DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेज रफ्तार कार ने सीतापुर हाइवे पार कर रहे परिवार को उड़ाया, मासूम की मौत

- आगरा एक्सप्रेस वे के सर्विस लेन पर बाइक की टक्कर से मासूम की मौत

- हजरतगंज में कार की टक्कर से साइकिल सवार दर्जी की मौत

लखनऊ। निज संवाददाता

बीकेटी में तेज रफ्तार कार ने गुरुवार को सीतापुर हाइवे पार कर रहे एक परिवार को टक्कर मार दी। जिसमें अमन सिंह (7) की मौत हो गई जबकि दम्पति समेत पांच लोग जख्मी हो गए। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने आरोपी ड्राइवर को पकड़ लिया है। हजरतगंज में अशोक मार्ग स्थित श्रीराम टावर के सामने बुधवार देर रात कार ने साइकिल सवार दर्जी को टक्कर मार दी। जिससे उनकी मौत हो गई।

मूलत: मैलानी के भीखमपुर निवासी निर्मल सिंह पत्नी राजेश्वरी, बेटे अमन सिंह, डेढ़ साल की बेटी बेबी, बहन मोनिका, रिश्तेदार सोहनलाल के साथ बीकेटी के मदारीपुर स्थित गीता ब्रिक फील्ड में रहकर काम करते है। गुरुवार शाम को निर्मल, पत्नी, बच्चों, बहन और सोहनलाल के साथ हाइवे पार कर रहे थे। इसी बीच सीतापुर की ओर से लखनऊ जा रही तेज रफ्तार कार ने परिवार को टक्कर मार दी। जिससे अमन सिंह की मौके पर ही मौत हो गई जबकि निर्मल, जयश्री, मोनिका, मासूम बेटी बेबी और सोहनलाल जख्मी हो गए। इस हादसे में घायल तीन लोगों की हालत को देखते हुए डॉक्टरो ने उन्हें ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया है।

पुलिस ने पीछा करके ड्राइवर को पकड़ा

हादसे की सूचना मिलते ही बीकेटी पुलिस ने कार का पीछा किया। करीब एक किलोमीटर दौड़ाने के बाद पुलिस ने कार को रोक लिया। पुलिस के मुताबिक, आरोपी ड्राइवर विकासनगर के सेक्टर-ए निवासी मनोज सिंह को हिरासत में ले लिया है।

आगरा एक्सप्रेस वे के सर्विस लेन पर बाइक की टक्कर से मासूम की मौत, प्रदर्शन

काकोरी के आगरा एक्सप्रेस हाइवे के सर्विस लेन पर गुरुवार शाम को तेज रफ्तार बाइक सवार ने हर्षित पाल (6)को टक्कर मार दी। मासूम बाइक में फंसकर घिसटता चला गया। चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण पहुंच गए। उन लोगों ने आरोपी बाइक सवार को दबोच लिया। उनकी पिटाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। इस घटना से गुस्साएं ग्रामीणों ने सर्विस लेन पर जाम करके प्रदर्शन शुरू कर दिया। परिवारीजन देर रात तक मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। पुलिस के मुताबिक, मदवापुर जलियामऊ गांव निवासी अनुज पाल का बेटा हर्षित सर्विस लाइन किनारे शौच करके वापस लौट रहा था। इसी बीच उन्नाव निवासी अमर और उसके दो साथी मजदूरी करके बाइक से घर जा रहे थे। स्ट्रीट लाइन न होने के कारण हर्षित बाइक की चपेट में आकर जख्मी हो गया और उसकी मौत हो गई। अनुज की परचून की दुकान है। वह पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहते हैं।

कार ने साइकिल सवार दर्जी को रौंदा

बटलर पैलेस पानी की टंकी के पास रहने वाले रामबाबू (52) इलेक्ट्रीशियन और दर्जी थे। बुधवार रात वह हुसैनगंज स्थित एक मकान में काम करके साइकिल से लौट रहे थे। श्रीराम टावर के पास तेज रफ्तार कार ने उनकी साइकिल में टक्कर मार दी। जिससे वह छिटक कर डिवाइडर पर से टकरा गए। राहगीरों की मदद से पुलिस ने उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने उनकी हालत देखते हुए ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। जहां उनकी मौत हो गई। पुलिस ने उनकी शिनाख्त करते हुए परिवारीजनों को सूचना दी। परिवार में पत्नी सुमन, बेटी दीपिका और बेटा पवन है। पवन ने रूट पर लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से आरोपी ड्राइवर की पहचान करने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:accident