DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश की दशा और दिशा को जो बदलेगा उसी को मिलेगा वोट

-युवतियां बोली शिक्षा और सरकारी स्कूलों में हो सुधार

लखनऊ। निज संवाददाता

नारी शक्ति तू क्यों घबराए, गर्जना से तेरी आंधी भी थर्राये,दसों दिशाओं में ललकार लिए,जिधर बढ़ो जय-जयकार कर जाए... इन अल्फाज़ों की गूंज गुरुवार को हिन्दुस्तान अखबार की ओर से अब नारी की बारी हैं हुंकार को तेज करते हुए आओ राजनीति करें का आयोजन किया गया। इस अभियान से अपनी आवाज को बुलंद करने के लिए चारबाग स्थित केकेवी डिग्री कॉलेज की महिलाओं और युवतियों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम में वोट का अधिकार पा चुकी युवतियों ने एक स्वर में बोला कि देश में महिलाओं की दशा और दिशा को जो बदलेगा उसी को नौजवान वोट देंगे।

उन्होंने बताया कि महिलाओं की दशा को जो सरकार सुधारेगी और उनकों आत्मनिर्भर बनाकर उनकी उन्नति के रास्तों को उनके लिए खोलेगी अब की बार महिलाओं का साथ उसी सरकार को मिलेगा। पारिवारिक कानून में बराबर हक,काम करने की आजादी और शिक्षा प्राप्ति का अधिकार महिलाओं को मिले तभी देश में बदलाव की लहर दिखेगी।

-मुद्दा

परिवार से लेकर महिला से जुड़ी संस्थाओं में हो सुनवाई

लड़की को शादी के लिए नहीं नौकरी के लिए तैयार करें

समाज में युवतियों को बेहतर माहौल मिले

सरकारी नौकरी में महिलाओं का अनुपात बढ़ाया जाए

घरेलू हिंसा पर लगे लगाम

दहेज प्रथा को अपराध की श्रेणी में रखें

सरकारी महिला डिग्री कॉलेज और स्कूलों पर दें ध्यान

डिजिटल युग में सरकारी स्कूलों की सूरत में लाए बदलाव

शिक्षा प्राप्ति का अधिकार

काम करने की आजादी मिले

पारिवारिक कानून में मिले महिलाओं को बराबरी का हक

बेरोजगारी कम हो, महिलाओं को मिले रोजगार के अवसर

-समाधान

महिलाओं से जुड़ी संस्थाओं की तय हो जवाबदेही

शिक्षा के स्तर को सुधारने की जरूरत

सरकारी नौकरी के लिए बेटियों को प्रोत्साहन संग मिले सरकार का साथ

घरेलू हिंसा से जुड़े केस को गंभीरता से लेते हुए जल्द हो कार्रवाई

दहेज प्रथा पर कड़ी कार्रवाई हो

सरकारी कॉलेज और स्कूलों में शिक्षा के स्तर में लाए सुधार

सरकार की ओर से डिजिटल युग में डिजिटल स्कूल पर हो काम

शिक्षा प्राप्ति का अधिकार तब मिलेगा जब बिना भेद किए हर जगह हो पालन

बेरोजगारी पर लगाम लगाने की जरूरत

स्वरोजगार योजना संग उद्योगों में महिलाओं की भगीदारी बढ़े

-बातचीत

1-देश में बेरोजगारी के स्तर पर लगाम लगाने की जरूरत है। शिक्षा के क्षेत्र में युवतियों को प्रोत्साहित करने के साथ परिवार और समाज को जागरूक करने की आवश्यकता है।

-विभा पांडे, टीचर

2-महिलाओं के लिए परिवार से लेकर महिलाओं से जुड़ी संस्थाओं को सकारात्मक रवैय्ये संग काम करने की जरूरत है। युवतियों को बेहतर माहौल मिले जिससे वो खुले आसमां में पंख फैला सुनहरे भविष्य की उड़ान उड़ सकें।

-डॉ वंदना, एचओडी, समाजशास्त्र विभाग

3-युवतियों को काम करने के लिए बाहर निकलना पड़ता है और देर रात उनको वापस आना पड़ता है ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा पर ध्यान देने की जरूरत है।

-काजल यादव, छात्रा

4-महिला डिग्री कॉलजों और इंटर में छात्राओं के लिए शैचालय की व्यवस्था भी उचित नहीं है ऐसे में सरकार की इस ओर ध्यान देने की जरूरत है। स्कूलों में शौचालय की साफ-यफाई की व्यवस्था चौपट हैं।

-सोनिका त्रिपाठी, छात्रा

5-महिलाओं के लिए सेहत और सुरक्षा दो मुद्दे बेहद संवेदनशील हैं जिसपर अब तक किसी सरकार ने ठोस कदम नहीं उठाएं हैं। इस ओर ध्यान देने की जरूरत है।

-रीमा कुमारी, छात्रा

6-दहेज प्रथा आज भी कहीं न कहीं बेटियों की कमजोर करती हैं। बेटियों को जन्म होते ही मार देने के पीछे भी कहीं न कहीं यही वजह है।

-निकीता मिश्रा,छात्रा

7-महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए महिलाओं को शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ावा देने की जरूरत है। महिलाओं को आर्थिक आत्मनिर्भर बनाने के लिए रोजगार संबधी योजनाओं को लागू करने की जरूरत है।

-राखी साहू,छात्रा

8-शिक्षा, सुरक्षा और सेहत इन तीनों मुद्दों पर महिलाओं के लिए काम करने की जरूरत है जिससे महिलाओं को बेहतर माहौल मिल सके।

-अंशूल श्रीवास्तव,छात्रा

9-बेटियों को आगे बढ़ाने के अवसर देने चाहिए इसके लिए उनको खुला छोड़ दें। पुरानी बंदिशें इस समाज से तब खत्म होंगी जब इस समाज से जुड़े लोगों की सोच पर चोट की जाएगी।

-कोमल वर्मा,छात्रा

10-महिलाओं की शिक्षा को बढ़ावा देना चाहिए। इसके साथ शिक्षा संग नौकरी के लिए की जाने वाली जद्दोजहद पुरूषों से ज्यादा महिलाओं को करनी पड़ती हैं। इसलिए महिलाओं को आगे बढ़ाने की जरूरत है।

-सविता यादव,छात्रा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:aao rajniti krein