DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज सबसे चमकीला दिखायी देगा शनि ग्रह

पूरी रात देख सकेंगे शनि ग्रह का अपोजिशन, काफी चमकीला दिखायी देगा शनि ग्रह

लखनऊ। शनि ग्रह का आज सबसे ज्यादा चमकीला दिखायी देगा। यह शनि ग्रह के अपोजिशन की वजह से संभव होगा। यह इस साल अत्यन्त आकर्षक खगोलीय घटना होगी। इस दिन शनि ग्रह धरती के काफी करीब होगा तथा पृथ्वी, शनि ग्रह एवं सूर्य एक सीधी रेखा में आ जायेंगे। लोग सूर्यास्त होते ही इस अद्भभुत खगोलीय घटना का नाजारा ले सकेंगे।

जब शनि ग्रह के अपोजिशन की अवस्था में होने का मतलब है कि ज्यों ही पश्चिम दिशा में सूर्यास्त होगा पूर्व दिशा की ओर से शनि ग्रह निकलता हुआ दिखाई देगा। शनि ग्रह की अपोजिशन की अवस्था प्रत्येक वर्ष होती है। शनि ग्रह के छल्ले छोटे-छोटे चट्टानों एवं बर्फ के टुकड़ों के बने होते हैं। जो कि हजारों किमी दूर तक फैले हैं। बुधवार को सूर्यास्त शाम को 7.03 बजे होगा। लगभग 7.40 बजे से शनि ग्रह आसमान में साफ दिखाई देना शुरू हो जाएगा। इन्दिरा गांधी नक्षत्रशाला में शनि ग्रह के छल्लों के अलावा चन्द्रमा के गड्ढे, समतल मैदान एवं बृहस्पति ग्रह के बैन्ड्स, गैलीलियन मून को टेलीस्कोप से दिखाने का इंतजाम किया गया है। इस वर्ष 79 दिनों में 3 ग्रहों का अपोजिशन पड़ रहा है। 27 जुलाई को मंगल ग्रह का अपोजिशन भी लोग देख सकेंगे। वर्ष 2020 में पुनः तीन ग्रहों का अपोजिशन देखने को मिलेगा जो कि 91 दिनों में घटित होगा। पुनः 2022 में 116 दिनों में तीनों ग्रहों का अपोजिशन देखने को मिलेगा। शनि ग्रह का झुकाव अधिकतम 27 डिग्री तक हो सकता है। शनि ग्रह को देखने पर इसके छल्ले हमारी दृष्टि रेखा से 26 डिग्री झुकाव लिये हुए नजर आयेंगे। जिसकी वजह से शनि ग्रह अधिक चमकदार एवं खूबसूरत नजर आयेगा। शनि ग्रह के छल्ले सूर्य की रोशनी के परावर्तन के कारण अत्याधिक चमकदार नजर आते हैं। नग्न आँखों से शनि ग्रह को देखने पर यह सुनहरे रंग का एक तारा सा नजर आता है। टेलीस्कोप से देखने से वह सुन्दर दिखायी देंगे।

------------------------------

इन्दिरा गाँधी नक्षत्रशाला में शनि ग्रह के अपोजिशन को दिखाने की तैयारी

शनि ग्रह के अपोजिशन को दिखाने के लिए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद, इन्दिरा गाँधी नक्षत्रशाला, लखनऊ एवं यू0पी0 एम्च्योर एस्ट्रोनामर्स क्लब के माध्यम से टेलीस्कोप की व्यवस्था की गयी है। इसे दिखाने का इंतजाम क्लॉक टावर, हुसैनाबाद, लखनऊ में किया गया है। 4 टेलीस्कोपों की व्यवस्था की गयी है। टेलीस्कोप से शनि, चन्द्रमा एवं बृहस्पति ग्रह को निःशुल्क देखा जा सकेगा। यहां लोग सांय 08.00 से 9.30 बजे तक देख सकेंगे। 27 जून को शनि ग्रह के अपोजिशन पर धरती से इसकी दूरी-9.049 खगोलीय इकाई अर्थात 1353711131 किमी होगी।

-----------------

27 व 28 की रात होगा पूर्ण चन्द्रग्रहण

27 व 28 जुलाई की रात को पूर्ण चन्द्र ग्रहण होगा। इस दिन 21 वीं सदी का सबसे लम्बा चन्द्र ग्रहण देखने को मिलेगा। जो कुल मिला कर 103 मिनट का होगा। चन्द्र ग्रहण में चन्द्रमा सुर्ख लाल रंग का नजर आएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:aaj