अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाराबंकी में बारिश के दौरान गिरी छत, एक की मौत, एक घायल

तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश में जमड़वा मजरे असेना में छप्पर के नीचे दब कर एक किशोर की मौत हो गईं। वहीं कई स्थानों पर पेड़ गिर जाने से रास्ते बाधित रहे। झमा झम बारिश से लोगों ने राहत महसूस की। लेकिन लोगों को जलभराव की समस्या से भी जूझना पड़ा। खेतों में पानी भर जाने से किसान खुश है तो धान की रोपाई में तेजी आई है। उधर शुक्रवार को देर तक हुई बरसात ने आफत भी मचाया। अलग-अलग स्थानों पर कच्ची छत व छप्पर गिरने से एक बालक की मौत हो गई वहीं एक वृद्ध गंभीर रूप से घायल हो गया।

तेज हवा में गिरा छप्पर दब कर किशोर की मौत : रामसनेही घाट तहसील के जमड़वा मजरे असेना गांव में रमापति तिवारी का 16 वर्षीय पुत्र चंदन शुक्रवार की भोर घर के बाहर छप्पर के नीचे सो रहा था। रात में झमाझम बारिश के साथ तेज हवा भी बह रही थी। भोर करीब दो बजे अचानक छप्पर भरभरा कर ढह गया। जिससे चंदन उसी में दब गया। शोर सुनकर परिवारीजन व ग्रामीण आनन-फानन मौके पर पहुंचे और छप्पर को हटाया। लेकिन तब तक चंदन की मौत हो चुकी थी। चंदन के मौत की जानकारी होते ही परिवार में कोहराम मच गया। परिवारीजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इस संबंध में एसडीएम राहुल कुमार यादव ने बताया कि राजस्व निरीक्षक को मौके पर भेजा गया। रिपोर्ट आने के बाद मृतक के परिवारीजनों को नियमानुसार आर्थिक सहायता दी जाएगी।

उधर, मसौली के कस्बा बांसा में शुक्रवार की रात रामपाल (60) व उनका पुकत्र बैजनाथ अपने कच्चे मकान में सो रहे थे। रात्रि लगभग 2 बजे जब तेज बारिश के दौरान घर की कच्ची छत ढह गई। कच्ची छत के मलबे में दबकर वृद्ध रामपाल को गंभीर चोटें आ गईं। जिन्हें परिजनों ने इलाज के लिए सीएचसी बड़ागांव में भर्ती कराया है।

कई स्थानों पर पेड़ गिरा, बिजली व्यवस्था ध्वस्त :

शुक्रवार की रात को हुई बरसात के कारण कई ग्रामीण क्षेत्रों में पेड़ गिर गए। जिसके कारण दो सौ से अधिक गांवों की विद्युत व्यवस्था ध्वस्त हो गई। शनिवार को विद्युत विभाग लाइनों को दुरुस्त करने में जुटा रहा।

सिद्धौर संवाद के अनुसार स्थानीय विकास खंड क्षेत्र के पोरई गांव के समीप गुरूवार रात तेज गरज के साथ बरसात होने से सड़क की पटरी में लगा एक विशाल पेड़ अपने आगोश मे विजली के खम्भें को लेते हुए भर भरा कर सड़क पर आ गिरा। सूचना के बाद आनन फानन मे पहुंचे विजली कर्मी लेकिन वन विभाग के जिम्मेदार आरा कुल्हाड़ी लेकर कई घंटो बाद पहुंचे। इस बीच इस मार्ग से होकर गुजरने वाले लोगो को भारी मुसीबतोंं का सामना करना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:A roof collapsed during rain in Barabanki, one killed, one injured