DA Image
23 मई, 2020|7:06|IST

अगली स्टोरी

संतरे के छिलके से तैयार दवा से होगा कोरोना पर वार

default image

-सीडीआरआई की दवा का ट्रॉयल करेगा केजीएमयू-केजीएमयू की एथिक्स कमेटी ने ट्रॉयल को दी मंजूरी-132 मरीजों पर परखी जाएगी दवालखनऊ। वरिष्ठ संवाददाताकोरोना वायरस को पस्त करने के लिए सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से दवा तैयार की है। यह दवा केजीएमयू में भर्ती कोरोना मरीजों पर परखी जाएगी। शनिवार को केजीएमयू एथिक्स कमेटी की बैठक हुई। इसमें ड्रग ट्रॉयल को मंजूरी मिल गई है। कमेटी ने ट्रॉयल में शामिल मरीजों का बीमा कराने का भी फैसला किया है। कोरोना का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। अभी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज की पुख्ता दवा नहीं है। दुनिया भर में तमाम तरह की दवा और वैक्सीन पर ट्रॉयल चल रहा है। राजधानी के दो बड़े संस्थानों में भी कोरोना को हराने के लिए बड़े पैमाने पर शोध कार्य चल रहा है। इसी दौरान सीडीआरआई ने संतरे के छिलके से दवा तैयार की है। केजीएमयू और सीडीआरआई के बीच करार भी हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि इस दवा का कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होगा।132 मरीजों पर होगा ट्रॉयलकेजीएमयू रिसर्च सेल के प्रभारी डॉ. आरके गर्ग के मुताबिक कुल 132 कोरोना पॉजिटिव मरीजों पर ट्रॉयल होगा। इनमें 66 मरीजों को सीडीआरआई द्वारा तैयार दवा दी जाएगी। बाकी मरीजों को दूसरी दवाएं। इसके बाद शरीर में वायरस का प्रकोप कैसे और कितनी जल्दी खत्म हो रहा है। चिकित्सा विज्ञान में इसे वायरस क्लीयरेंस कहते हैं। जिन कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है उसकी रफ्तार क्या है?

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A drug prepared from orange peel will attack Corona