DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

75 फीसदी हाजिरी नहीं हुई तो परीक्षा और छात्रवृत्ति से होना पड़ेगा वंचित

बप्पा श्रीनारायण वोकेशनल स्नातकोत्तर महाविद्यालय (केकेवी) प्रशासन ने शैक्षिक गुणवत्ता की दृष्टि से कई कदम उठाए हैं। इसके तहत अब महाविद्यालय ने एक अगस्त से ड्रेस कोड सख्ती से लागू करने का फैसला लिया है। साथ ही बायोमैट्रिक हाजिरी की व्यवस्था की है। साथ ही महाविद्यालय ने दो वोकेशनल कोर्स भी छात्रों के लिए शुरू किए हैं।

कॉलेज के प्राचार्य प्रो. राकेश चन्द्रा ने बताया कि उनके यहां पहले से ही निर्धारित ड्रेस है, पर इसका पालन सही से नहीं हो रहा था। कोई छात्र पहनकर आता था तो कोई नहीं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। उन्होंने बताया कि अब एक अगस्त से ड्रेस कोड का सख्ती से पालन किया जाएगा। बिना ड्रेस के आने वाले छात्र को पहले तो चेतावनी दी जाएगी। अगर इसके बाद भी ड्रेस नहीं पहनकर आता है, तो उसे कॉलेज में पर रोक लगाई जाएगी। इसके अलावा शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने की दिशा में दूसरा कदम बायोमैट्रिक हाजिरी की शुरूआत करना है। उन्होंने बताया कि इससे जहां छात्र क्लास में आएगा, वहीं विश्वविद्यालय और समाज कल्याण विभाग द्वारा मांगे जाने वाले हाजिरी का डाटा देने में सहुलियत होगी। उनका कहना है कि अब छात्र को क्लास में आना ही होगा। नहीं तो उसे परीक्षा और छात्रवृत्ति से वंचित होना होगा,क्योंकि दोनों के लिए ही 75 फीसदी हाजिरी जरुरी है।

महाविद्यालय के छात्रों के लिए शुरू किए दो वोकेशनल कोर्स

प्राचार्य प्रो. राकेश चन्द्रा ने बताया कि छात्रों के लिए जीएसटी और कम्प्यूटर के दो वोकेशनल कोर्स शुरू किया गया है। जीएसटी में तीन माह का सार्टिफिकेट कोर्स और कम्प्यूटर में छह माह का कोर्स चलाया है। इसमें केवल महाविद्यालय के छात्रों को ही दाखिला मिलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:75 percent attendance will not be absent if examination and scholarship will be denied