DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

21 को पहला बड़ा मंगल, हनुमान जी को चोला चढ़ाना होगा शुभकारी 

जेठ के बड़े मंगल को लेकर राजधानी के हनुमान मन्दिरों में तैयारियां शरू हो गई हैं। कहीं  रंगाई-पुताई तो कही केसरी नन्दन के सजावट की तैयारियां चल रही हैं। भक्तों को जेठ की गर्मी से निजात पाने के लिए मन्दिरों के आस-पास मैट बिछाया जाएगा और उस पर हर समय पानी का छिड़काव होता रहेगा। इसके अलावा मन्दिरों में एयरकंडीशन लगाए जाएंगे। इस बार चार मंगल है। जिसमें 21, 28 मई और 4 व 11 जून को पड़ेगा। ज्योतिषाचार्य एसएस नागपाल ने बताया कि जेठ माह की शुरुआत 19 मई से हो रही है। इस बार के सभी जेठ के मंगल शुभकारी है। हनुमान जी के दर्शन, पूजन व चोला चढ़ाने से काफी लाभ मिलेगा।  

20 मई से दंडवत परिक्रमा करते आएंगे 500 भक्त:  अलीगंज का नया हनुमान मन्दिर में बड़े मंगल की तैयारियां पिछले एक माह से चल रही हैं। मन्दिर ट्रस्ट के व्यवस्थापक राकेश दीक्षित ने बताया कि मन्दिर ट्रस्ट की ओर से होने वाली तैयारियां तेजी से जारी हैं।  उन्होंने बताया कि मन्दिर के हनुमान जी के दोनों गर्भगृह में एसी  रहेंगे। एसी के लगने से भक्तों को काफी सुविधा मिलेगी। उन्होंने बताया कि 20 मई दिन सोमवार की रात से ही राजधानी व आसपास के गांवों से करीब 500 भक्त दंडवत परिक्रमा करते हुए आते हैं। मन्दिर सोमवार को दोपहर के बाद खुल जाएगा जो मंगलवार को रात 12 बजे बंद होगा। उन्होंने बताया कि करीब पांच कुंतल फूलों से शृंगार होगा। व्यवस्था के लिए मन्दिर की ओर 100 कार्यकर्ता व 50 अन्य सहयोगी सेवादार लगाए जा रहे है। 

 जेठ के सभी मंगल पर सजावट की बुकिंग फुल: हनुमान सेतु मन्दिर में सफाई रंगाई पुताई का कार्य चल रहा है। जेठ के मंगल के शृंगार की बुकिंग फुल हो चुकी है। मन्दिर के बड़े पुजारी भगवान सिंह विष्ट ने बताया कि हर बार जेठ के मंगल को एक भक्त द्वारा ही बुकिंग होती थी लेकिन इस बार भक्तों की श्रद्धा को देखते हुए 5-6 भक्तों को हनुमान जी के शृंगार कराने का मौका दिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी बड़े मंगल पर हनुमान जी का दो-दो घंटे पर शृंगार बदला जायेगा। बड़े पुजारी ने बताया कि जेठ के सभी मंगल पर मन्दिर परिसर को एयरकंडीशन किया जायेगा। जिससे भक्तों को गर्मी में काफी राहत मिलेगी। मन्दिर सोमवार की रात 12 बजे खुल जाएगा। जो मंगल को रात 12 बजे बन्द होगा। उन्होंने बताया कि मन्दिर के बाहर कई समाजसेवियों द्वारा भण्डारे और प्याऊ की व्यवस्था की जाएगी। मंगल के दिन विश्वविद्यालय मार्ग स्थित मन्दिर का द्वार बन्द रहेगा। उस दिन बंधा मार्ग के गणेश द्वार से दर्शन होंगे।

अमीनाबाद हनुमान मन्दिर 
अमीनाबाद हनुमान मन्दिर में बड़े मंगल को लेकर तैयारियां चल रही है। मन्दिर के प्रधान पुजारी कृष्णकांत पाठक ने बताया कि मन्दिर सोमवार को रात 12 बजे खुल जाएगा जो बुधवार को रात में बन्द होगा। मंगलवार को सुबह अभिषेक, आरती फिर 21 किलो बेसन के लड्डू का भोग लगेगा। रात में 10 बजे सुन्दरकांड पाठ होगा तथा जेठ के मंगल को मन्दिर की ओर से भण्डारे का आयोजन किया जाएगा। 

बालाजी मन्दिर
तालकटोरा स्थित बालाजी मन्दिर पर जेठ के सभी मंगलों को सोने, चांदी के वर्क से बाबा का शृंगार होगा। शाम को भजन संध्या का कार्यक्रम होगा। इसके अलावा अलीगंज के पुराने हनुमान मन्दिर, मेडिकल कालेज चौराहा स्थित छांछी कुआं हनुमान मन्दिर, चारबाग के त्रिलोचन हनुमान मन्दिर, हजरतगंज के हनुमान मन्दिर, रकाबगंज चौराहा स्थित हनुमान मन्दिर, इन्दिरानगर सी ब्लाक हनुमान मन्दिर, कुर्सी रोड व बीरबल साहनी मार्ग के पंचमुखी हनुमान मन्दिर, पक्कापुल स्थित लेटे हुये हनुमान मन्दिर, दुबग्गा के बरदानी हनुमान मन्दिर में बड़े मंगल की तैयारियां चल रही है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:21 will be the first bada mangal