- जिले के 35 हजार व्यापारियों को मिलेगा पेंशन का लाभ DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिले के 35 हजार व्यापारियों को मिलेगा पेंशन का लाभ

प्रदेश भर में लगभग साढ़े सात लाख व्यापारी जीएसटी में पंजीकृत

शहर में लगभग पचास हजार व्यापारी पंजीकृत

लखनऊ वरिष्ठ संवाददाता

जीएसटी के बुने ताने-बाने में जिले के लगभग 35 हजार व्यापारी पेंशन लाभ पाने के अधिकारी होंगे। लेकिन जीएसटी काउंसिल से 40 लाख रुपये टर्नओवर वाले कारोबारी भी पंजीकृत हो गए तो इस आंकड़े में लगभग दो गुना का अंतर आ जाएगा। व्यापारियों का मानना है कि पेंशन मिलने की शर्त डेढ़ करोड़ रुपये टर्नओवर तक के व्यापारियों को इसमें शामिल करना है। ऐसे में इस स्कीम का लाभ लेने के लिए पंजीकृत व्यापारियों की संख्या का बढ़ना लाजिमी है।

केवल 35 हजार व्यापारी डेढ़ करोड़ रुपये टर्नओवर के नीचे

बजट में सरकार ने छोटे कारोबारियों को पेंशन स्कीम से जोड़ने का ऐलान किया है। पेंशन योजना का लाभ केवल उन दुकानदारों को ही मिलेगा जिनका सालाना टर्नओवर डेढ़ रुपये से कम है। अगर आंकड़ों को देखें तो जिले में लगभग पचास हजार कारोबारियों ने अभी तक पंजीकरण कराकर जीएसटीएन ले रखा है। लेकिन इस संख्या में उद्योग और ऐसे भी कारोबारी हैं जिनका टर्नओवर डेढ़ करोड़ रुपये से ऊपर है। लखनऊ व्यापार मंडल के वरिष्ठ महामंत्री और व्यापारी कल्याण बोर्ड के सदस्य अमरनाथ मिश्र कहते हैं कि प्रदेश भर में लगभग 16 लाख कारोबारियों ने जीएसटी में अपना पंजीकरण करा रखा है। इसमें अगर शहर के कारोबारियों को पेंशन मिलने की बात करें तो यह संख्या 35 हजार के आसपास आकर टिक जाती है। जबकि शहर में छोटे कारोबारियों की संख्या लगभग एक लाख के आसपास है। अब सरकार इन सबको किस तरह से लाभान्वित करेगी यह तो पेंशन योजना के नोटिफिकेशन आने के बाद ही पता चल पाएगा।

मंडी व नगर निगम में पंजीकृत व्यापारियों को भी मिले लाभ

उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद बनवारी लाल कंछल कहते हैं कि इस पेंशन योजना का लाभ ज्यादा लोगों को मिलना चाहिए। ऐसे में सरकार का मानक केवल जीएसटी में पंजीकृत कारोबारियों तक ही सीमित न हो। उन्होंने कहा कि मंडी परिषद, नगर निगम और जिला परिषद समेत अन्य जगहों पर अगर व्यापारी ने अपना पंजीकरण करा रखा है तो उसे इस पेंशन योजना का लाभ मिलना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: