DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राण‍ि उद्यान में त‍ितल‍ियों की खूबी बताएंगे नए श‍िक्षा केन्द्र

लखनऊ। निज संवाददाता

क्या आप जानते हैं फूलों की शान बढ़ाती तितलियों की उम्र औसत तीन दिन होती है। जिसमें से

केवल कुछ ही प्रजातियां छह से सात दिन जिन्दा रहती हैं। भारत में तितलियों की करीब 1500

प्रजातियां हैं और पूरे विश्व भर में करीब दो हजार तितलियों की विभन्न प्रजातियां हैं पर हम

केवल कुछ के बारे में ही जानते हैं। अगर आप भी रंग-बिरंगी तितलियों के शौकीन हैं तो लखनऊ

प्राणि उद्यान में जल्द ही आपको नया इंटरप्रिटेशन सेंटर देखने को मिलेगा। नए शिक्षा केन्द्र में

दर्शक तितलियों से जुड़े रोचक तथ्य और जानकारी हासिल कर सकेंगे।

लखनऊ प्राणि उद्यान में मौजूद तितली पार्क दो एकड़ में फैला है, यहां तितलियों की करीब 40

प्रजातियां और 100 किस्म के पौधे हैं। दर्शक तितली पार्क में भ्रमण करने तो आते हैं पर

उन्हें इस बात की जानकारी नहीं मिल पाती की वे कौन सी तितली देख रहे हैं। नए प्राणि शिक्षा केन्द्र में तितली पार्क से संबंधित पेड़-पौधों और तितलियों की जानकारी होगी। प्राणि उद्यान में मौजूदा वन्यजीव शिक्षा केन्द्र में सभी वन्यजीवों से जुड़ी जानकारी है पर तितलियों की जानकारी उसमें शामिल नहीं है, तितली पार्क के निर्माण के बाद से तितली शिक्षा केन्द्र पर विचार चल रहा है । प्राणि उद्यान के निदेशक आरके सिंह ने बताया की जल्द ही शिक्षा केन्द्र के लिए बजट निर्धारित कर काम शुरू किया जाएगा।

दर्शकों के स्वास्थ्य के अनुरूप तैयार टॉयलेट

नवाब वाजिद अलि शाह प्राणि उद्यान में नए साल में दर्शकों के लिए सुविधाओं को बेहतर बनाने के क्रम में डियर सफारी के सामने बन रहे टॉयलेट में वेस्ट प्रबंधन के लिए इन्सेंटर लगाया जाएगा ताकि प्राणि उद्यान में आ रहे दर्शकों को साफ टॉयलेट की सुविधा मिल सके। साथ ही प्राणि उद्यान में सेनेटरी नैपकीन मशीन लगाई जाएगी। जनवरी के अंत तक वेन्डिग मशीन लगा दी जाएंगी। प्राणि उद्यान में हर दिन हजारों की संख्या में लोग आते हैं ऐसे में संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: