अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डॉ. अमृता दास को मिले दो गोल्ड मेडल

लखनऊ। कार्यालय संवाददाता

लखनऊ विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा डॉ. अमृता दास को रविवार को 40 साल बाद दो गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। कुलसचिव एसके शुल्क ने उनके घर जाकर यह मेडल प्रदान किए। डॉ. दास ने वर्ष 1978 में विश्वविद्यालय से वेस्टर्न हिस्ट्री में परास्नातक की पढ़ाई पूरी की थी। उस समय वेस्टर्न हिस्ट्री और इतिहास विभाग में टॉप करने के लिए दो मेडल दिया जाना था। लेकिन, उस दौरान दीक्षांत समारोह ही नहीं हुआ। जिसके चलते मेडल नहीं मिल पाया। डॉ. दास का यह सपना अब पूरी होने जा रहा है। डॉ. अमृता दास कहती हैं कि मम्मी-पापा की ख्वाहिश थी कि यह मेडल मिल जाए। एमए इतिहास में सर्वाधिक अंक पाने के लिए गोपाल चंद मुखर्जी मेमोरियल गोल्ड मेडल और एमए फाइनल वेस्टर्न हिस्ट्री में सर्वाधिक अंक के लिए पंडित दिवाकर नाथ मिश्र गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। इस दौरान उनका परिवार और कई करीबी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: