DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उद्यमियों के कोट

पहला मौका है जब प्रदेश में उद्योगों को स्थापित करने में इतने अवसर मिल रहे हैं। उनकी कम्पनी ने मक्के से स्टार्च बनाने की प्रदेश में तीसरी बड़ी इंडस्ट्री स्थापित करने जा रही है। इससे वह लगभग पांच सौ लोगों को रोजगार के अवसर दे सकेंगे।अनिल कुमार अग्रवाल, उद्यमीअडानी ग्रुप बड़े उद्योगों के साथ छोटे-छोटे निवेश पर भी ध्यान दे रही है। वह नदियों की सफाई में भी सहयोग करेगी। इसी क्रम में गोमती और गंगा नदी को साफ रखने के लिए एसटीपी का निर्माण भी कराएगी।आनन्द सिंह बिसेन, कारपोरेट हेड, अडानी ग्रुपप्रदेश सरकार ने जिस तरह से निवेशकों को अपना प्रोजेक्ट धरातल पर उतारने में सहयोग कर रही है। वह काबिलेतारीफ है। सरकार की सिंगल विंडो सिस्टम की कार्यशैली की वजह से छोटे उद्योगों को भी बढ़ावा मिलेगा।एसके वर्मा, सीईओ, समृद्धि इंफ्रास्टेट प्रा.लि.प्रदेश सरकार को एमएसएमई पर ध्यान केन्द्रित करने की जरूरत है। क्योंकि छोटे उद्योग ही आसपास के गांव के लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने में सक्षम हैं। छोटे उद्योगों का इन्वेस्टर समिट की सफलता में बहुत ब़ड़ा सहयोग है।मुकेश बहादुर सिंह, सीईओ, दुग्ध प्लांट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ददद