अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्राम स्वराज अभियान को सफल बनाएं: मुख्यमंत्री

- मंडलायुक्तों को अनुश्रवण की जिम्मेदारी दी गई

- मुख्यमंत्री ने ग्राम स्वराज अभियान की समीक्षा की

प्रमुख संवाददाता- राज्य मुख्यालय

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 5 मई तक चलाए जा रहे ‘ग्राम स्वराज अभियान में सांसदों व विधायकों को शामिल होने को कहा है। गांवों में चौपाल आयोजित कर इसे सफल बनाने को कहा है। इसके अनुश्रवण की जिम्मेदारी मंडलायुक्तों को दी गई है। वह इसकी रिपोर्ट शासन को देंगे।

मुख्यमंत्री सोमवार को शास्त्री भवन में ‘ग्राम स्वराज अभियान के आयोजन के संबंध में आयोजित समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। कहा कि इस अभियान के दौरान ‘सबका साथ, सबका विकास की यात्रा का कार्यक्रम इस प्रकार बनाया जाए कि यह यात्रा सभी संबंधित गांवों से होकर गुजरे। अधिकारी और जनप्रतिनिधि चिन्ह्ति गांवों में चौपाल लगाएं और रात्रि विश्राम करें। इस दौरान वे स्थानीय जनता से संवाद स्थापित करते हुए इस अभियान के तहत संचालित कार्यक्रमों और योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाएं। जनता की शिकायतों का भी संज्ञान लिया जाए।

उन्होंने कहा कि चौपाल के दौरान गांवों में निर्बाध विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था की जाए। ‘ग्राम स्वराज अभियान के दौरान शिथिलता या लापरवाही पाए जाने पर अधिकारियों की जवाबदेही तय हो, जिससे उन्हें दण्डित किया जा सके। ग्राम स्वराज अभियान कार्यक्रम केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित किया गया है, जिसके तहत विभागीय कार्यक्रमों का शीर्ष प्राथमिकता पर समन्वय एवं अनुश्रवण कर आयोजन की सफलता सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने कहा कि 14 अप्रैल को सामाजिक न्याय दिवस, 18 अप्रैल को स्वच्छ भारत दिवस, 20 अप्रैल को उज्ज्वला दिवस, 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस, 30 अप्रैल को आयुष्मान भारत दिवस, 2 मई को किसान कल्याण दिवस तथा 5 मई को आजीविका दिवस मनाया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्राम स्वराज अभियान