UP Board Exam in Lakhimpur - कैमरों की निगाह, सख्ती, फिर 5 हजार ने छोड़ा इम्तिहान DA Image
14 नबम्बर, 2019|1:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैमरों की निगाह, सख्ती, फिर 5 हजार ने छोड़ा इम्तिहान

कैमरों की निगाह, सख्ती, फिर 5 हजार ने छोड़ा इम्तिहान

यूपी बोर्ड परीक्षाओं के दूसरे दिन बुधवार को सामान्य हिंदी और संगीत गायन की परीक्षाएं हुईं। दूसरे दिन भी परीक्षाओं में नकल रोकनें के लिए सख्ती का महौल दिखा। सख्ती का असर यह रहा कि दूसरे दिन भी 4,932 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे। शिक्षा विभाग और प्रशासन के अधिकारियों ने जिले में सघन चेकिंग की हालांकि जिले में दूसरे दिन भी कोई परीक्षार्थी नकल करते हुए नहीं पकड़ा गया है।बोर्ड परीक्षाओं के दूसरे दिन पहली पाली में हाईस्कूल सामान्य हिंदी की परीक्षाएं हुईं। इसमें पंजीकृत 50,247 परीक्षार्थियों में 45,315 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी जबकि 4,932 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे। इसके अलावा हाईस्कूल में ही प्रारंभिक हिंदी में दो परीक्षार्थी ही पंजीकृत थे।

दोनों परीक्षा में उपस्थित रहे। दूसरे दिन भी जिले में कहीं किसी प्रकार की नकल जैसी स्थिति नहीं रही। विभाग के सचल दस्तों के अलावा प्रत्येक तहसील के तहसीलदार और एसडीएम सहित विभिन्न अधिकारियों ने परीक्षाकेंद्रों का औचक निरीक्षक किया। परीक्षा केंद्रों पर पुलिस तैनात रही। ग्रामीण क्षेत्रों में भी पुलिस ने परीक्षाकेंद्रों के आसपास भ्रमण किया। परीक्षाकेंद्रों के बाहर गेट पर परीक्षार्थियों की सघन तलाशी ली गई। परीक्षाकेंद्रों के बाहर भी भीड़़ नहीं रही। बेसिक शिक्षा विभाग से लिए जा रहे कक्ष निरीक्षक वित्त विहीन शिक्षकों के बहिष्कार के बाद तलाशी वैकल्पिक व्यवस्थाअब नहीं होगी कक्ष निरीक्षकों की दिक्कतलखीमपुर खीरी। बोर्ड परीक्षाओं में कक्ष निरीक्षकों की कमी दूर करने के लिए विभाग ने बेसिक शिक्षा से मदद ली है। वित्त विहीन शिक्षकों के कार्य बहिष्कार के बाद बेसिक शिक्षा विभाग से कमी वाले स्थानों पर कक्ष निरीक्षक लगाए जा रहे हैं। वित्त विहीन शिक्षक संघ ने परीक्षा से दो दिन पूर्व ही बोर्ड परीक्षाओं में कक्ष निरीक्षक के रूप में कार्य के बहिष्कार का ऐलान किया था।

हालांकि पहले दिन हाईस्कूल की ग्रह विज्ञान और दूसरे दिन इंटर की संगीत गायन की परीक्षा होने के कारण कक्ष निरीक्षकों की अधिक कमी नहीं हुई लेकिन विभाग ने आगे की परीक्षाओं को देखते हुए बेसिक शिक्षा विभाग से और कक्ष निरीक्षक लेने की योजना बनाई है। डीआईओएस डा.आरके जायसवाल ने बताया कि दो दिनमें कक्ष निरीक्षकों की कमी के चलते कहीं दिक्कत हुई हो इस तरह की जानकारी नहीं मिली है लेकिन आगे की परीक्षाओं के लिए व्यवस्था कर ली गई है। बीएसए ने इस बात का आश्वासन दिया है कि मांग के अनुरूप कक्ष निरीक्षक उपलब्ध करा दिए जाएंगे। इसलिए जहां से भी कक्ष निरीक्षकों की कमी की सूचना मिलती है वहां बेसिक शिक्षा विभाग से कक्ष निरीक्षक भेजे जा रहे हैं।

डीआईओएस ने बताया कि वित्त विहीन के भी सभी शिक्षक कार्य बहिष्कार नहीं कर रहे हैं। उनके अध्यक्ष और मंत्री स्वयं केंद्र व्यवस्थापक के रूप में कार्य कर रहे हैं। यदि कुछ शिक्षक कक्ष निरीक्षक के रूप में ड्यूटी नहीं करते हैं तो उससे व्यवस्था पर कोई असर नहीं पड़ेगा। 95 ने डरकर छोड़ दी परीक्षामोहम्मदी। बोर्ड परीक्षा के दूसरे दिन हाईस्कूल हिन्दी प्रश्न पत्र में पीडी कालेज केंद्र पर 95 बच्चों ने परीक्षा छोड़ दी केंद्र व्यवस्थापक एसएन वर्मा के अनुसार केंद्र पर 526 छात्र, छात्राएं पंजीकृत थे जिनमें 95 छात्र/छात्राएं गैर हाजिर रहे।स्वामी रामाश्रम इंटर कालेज केंद्र व्यवस्थापक लाल चंद्र कनौजिया के अनुसार 362 में से 256 बच्चों ने परीक्षा दी इस केंद्र पर 106 बच्चे गैर हाजिर रहे। श्रीकृष्णा इंटर कालेज के केंद्र व्यवस्थापक डॉ केके दीक्षित के अनुसार 72 बच्चे गैर हाजिर रहे जबकि 565 बच्चे परीक्षा में बैठे। जेपी कालेज केंद्र व्यवस्थापक मनोज खरे के अनुसार यहां 545 ने परीक्षा दी और 61 बच्चे गैर हाजिर रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP Board Exam in Lakhimpur