DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फूलबेहड़ इलाके के बीस गांव बाढ़ से घिरे, नाव का सहारा

फूलबेहड़ इलाके के बीस गांव बाढ़ से घिरे, नाव का सहारा

पहाड़ी और मैदानी इलाकों में लगातार हो रही बारिश से शारदा नदी एक बार फिर उफना गई है। शारदा का पानी बीस से ज्यादा गांवों में भर गया है। बढ़ रहे पानी को देखते हुए लोग सुरक्षित स्थानों की ओर जाने की तैयारी में हैं। गांवों को जाने वाले रास्तों पर पानी भरा होने से नाव के सहारे आवागमन हो रहा है।

श्रीनगर गांव के पास रपटा पुल पर पानी से चलने से लोग जान जोखिम में डालकर आवागमन कर रहे हैं।शारदा नदी में पानी शनिवार की शाम से बढ़ने लगा। उफनाई नदी का पानी आसपास के गांवों में भरने लगा। रविवार की सुबह करीब बीस से ज्यादा गांवों में पानी पहुंच गया। घरों व रास्तों पर पानी भरने से लोगों ने गृहस्थी आदि का सामान ऊंचे स्थानों, तख्तों आदि पर रखा है। बाढ़ का पानी गूम, पिपरा, अहिराना, बडा़गांव, खांभी, खगई पुर्वा, जदीदपुर्वा, कुचिलहा, रायनगर, इच्छारामपुर्वा, नरहर, गोपालपुर्वा समेत बीस गांव बाढ़ की चपेट में है। मीलपुर्वा के पास मुख्य मार्ग पर दो फिट पानी चल रहा है। श्रीनगर के पास रपटापुल पर पानी चल रहा है। इसी पानी से होकर लोग किसी तरह से निकल रहे हैं। वहीं बडा़गांव जाने वाले रास्ते पर पुल के आगे पानी बह रही है। सैकडो़ एकड़ फसलें डूबी है। प्रशासन से कोई इमदाद पीडि़तों को नही मिली है। रविवार को लेखपाल लल्लू राम व प्रधान प्रतिनिधि तेजलाल निषाद ने बाढ़ प्रभावित गांव जंगल नम्बर 11 में जाकर हालात देखे। उधर एसडीएम सदर अरुण कुमार सिंह का कहना है कि बाढ़ के अभी हालात नहीं हैं। जिन गांवों में पानी पहुंचने की सूचना है वहां टीम भेजी गई है।सर यह खबर बनवा लीजिएगा।मुझे अभी एक हफ्ता लग जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Twenty villages of Phulbehad area surrounded by floods, boat support