DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखीमपुरखीरी › तिकोनिया कोतवाल और एक सिपाही सस्पेंड
लखीमपुरखीरी

तिकोनिया कोतवाल और एक सिपाही सस्पेंड

हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीPublished By: Newswrap
Wed, 04 Aug 2021 03:31 AM
तिकोनिया कोतवाल और एक सिपाही सस्पेंड

लखीमपुर खीरी। एक आरोपी को छोड़ने के लिए पैसों की कथित डीलिंग करना तिकोनिया कोतवाल और एक सिपाही को भारी पड़ गया है। एसपी ने दोनों को सस्पेंड कर लिया है। उनकी जांच सीओ निघासन को दी गई है। जांच रिपोर्ट आने पर उनके ऊपर विभागीय कार्रवाई भी होगी।

तिकोनिया थाने में तैनात सिपाही बाबू शंकर एक युवक को शराब के मामले में पकड़ कर लाया था। सुबह उसको छुड़ाने के लिए उसके गांव के ही प्रधान का भतीजा पहुंचा। सिपाही ने युवक को छोड़ने के लिए पांच हजार रुपए मांगे। लेकिन आरोपी युवक दो हजार ही दे रहा था। इस पर सिपाही ने उसको छोड़ने के लिए मना कर दिया और इंस्पेक्टर तिकोनिया ज्ञान प्रकाश तिवारी से बात करने को कहा। प्रधान के भतीजे ने इंस्पेक्टर को फोन किया और पूरी बात बताई। इंस्पेक्टर और प्रधान के भतीजे की यह रिकार्डिंग वायरल हो गई। जिसमें पैसों के लेनदेन का जिक्र भी है। रिकार्डिंग सोमवार को वायरल हुई थी। रिकार्डिंग जब उच्च अधिकारियों की जानकारी में आई तो एसपी विजय ढुल ने तिकोनिया कोतवाल ज्ञान प्रकाश तिवारी और सिपाही बाबू शंकर को लाइन हाजिर कर दिया। रिकार्डिंग मामले की जांच कराई गई। जिसमें मामला सही पाया गया। एसपी ने इंस्पेक्टर ज्ञान प्रकाश तिवारी और सिपाही बाबू शंकर को सस्पेंड कर दिया। उनके निलंबन की जांच सीओ निघासन को सौंपी गई है। एसपी ने बताया कि सीओ निघासन पूरे मामले की विस्तृत जांच करेंगे। जांच रिपोर्ट आने के बाद दोनों पर विभागीय कार्रवाई भी होगी। एसपी ने बताया कि अभी तक तिकोनिया थाने पर नए इंस्पेक्ट की तैनाती नहीं की गई है। लेकिन जल्द ही वहां कोई नया इंस्पेक्टर पोस्ट किया जाएगा।

संबंधित खबरें