DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखीमपुरखीरी › कूल्हे में चोट और रक्तस्राव से गई थी बाघिन की जान
लखीमपुरखीरी

कूल्हे में चोट और रक्तस्राव से गई थी बाघिन की जान

हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीPublished By: Newswrap
Tue, 28 Sep 2021 03:40 AM
कूल्हे में चोट और रक्तस्राव से गई थी बाघिन की जान

मैलानी खीरी। दुधवा टाइगर रिजर्व बफर जोन की मैलानी रेंज कि भरिगंवा बीट में रविवार की सुबह मिले बाघिन के शव को पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेजा गया था। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में बाघिन के कूल्हे में गंभीर चोट लगने एवं रक्तस्राव होने की वजह से मृत्यु होना बताया गया है।

खुटार-गोला राष्ट्रीय मार्ग पर मैलानी रेंज की भरीगंवा बीट में रविवार की सुबह ग्राम छेदीपूर जंगल किनारे एक बाघिन का शव मिलने से वन विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मच गया था। आनन-फानन में वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की। बाघ के पैर और शरीर में जख्म देख प्रथमदृष्टया उन्होंने हादसे में बाघिन की मौत होना बताया था। बाघिन के शव को मैलानी रेंज कार्यालय लाया गया जिसे पलिया ले जाया गया और वहां से बाघिन के शव को बरेली भेजा गया। बाघों के शव मिलने की यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी दुधवा टाइगर रिजर्व बफर जोन में कई बाघों की मौत हो चुकी है। बफर जोन के उपनिदेशक डा. अनिल पटेल ने बताया कि बाघिन की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कूल्हे में चोट और अत्यधिक रक्तस्राव की बात सामने आई है। इससे हादसे में बाघिन की मौत की आशंका की पुष्टि हो रही है।

संबंधित खबरें