DA Image
22 अक्तूबर, 2020|1:09|IST

अगली स्टोरी

थारू महिलाओं को दी कुक्कुट पालन की जानकारी

थारू महिलाओं को दी कुक्कुट पालन की जानकारी

केंद्रीय पक्षी अनुसंधान बरेली और कृषि विज्ञान केंद्र मझरा के तत्वावधान में बुधवार को थारू महिलाओं को स्वरोजगार की जानकारी दी गई। उनको कुक्कुट पालन और उसके लाभों के बारे में बताया गया। निघासन ब्लॉक के बेलापरसुवा गांव में पशुपालन विभाग के सहयोग से आदिवासी कुक्कुट उद्यमिता परियोजना के तहत गोष्ठी हुई।

इसमें एनआरएलएम के 12 स्वयं सहायता समूहों की लगभग 130 महिलाओं ने भाग लिया। परियोजना के मुख्य अंवेषक डॉ संजीव कुमार के तत्वाधान में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इसमें केंद्रीय पक्षी अनुसंधान संस्थान बरेली के प्रधान वैज्ञानिक डॉ संदीप सरन , डॉ अजीत सिंह यादव एवं डॉ दिव्या शर्मा ने कुक्कुट उधमिता, कुक्कुट पालन के फायदे एवं पोषण संबंधी जानकारियां दी। कृषि विज्ञान केन्द्र के अध्यक्ष डॉ निरंजन लाल एवं कृषि विशेषज्ञ अभिनव त्रिपाठी ने पोषण अभियान 2020 के अंतर्गत पोषण वाटिका से पोषण थाली तक जानकारी प्रदान की । राष्ट्रीय आजीविका मिशन के सहभागी कार्यकर्ता एवम सहयोगी कार्यकर्ता बृजेश वर्मा एवं अभिषेक कुमार ने सभी समूह सखियों एवम अन्य महिलाओं को अजोला की उपयोगिता की जानकारी दी।

डॉ अवधेश वर्मा ने कुक्कुट से संबंधित बीमारियों एवम इससे बचाव के उपाय बताए। डॉ राकेश वर्मा ने कुक्कुट में टीकाकरण के महत्व पर प्रकाश डाला। खण्ड विकास अधिकारी आलोक वर्मा ने कार्यक्रम की मुख्य रूपरेखा तैयार करने में योगदान किया । डॉ तरुण कुमार तिवारी मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी के दिशा निर्देशन में पशुपालन विभाग की टीम ने भी काम किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Tharu women were given information about poultry