ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश लखीमपुरखीरीदुधवा में गैंडों के लिए लगा सोलर वाटर प्रोजेक्ट

दुधवा में गैंडों के लिए लगा सोलर वाटर प्रोजेक्ट

मौसम का असर इंसान ही नहीं, वन्यजीवों पर भी खूब है। दुधवा के वन्यजीवों को गर्मी से निजात दिलाने के लिए खास इंतजाम किए गए हैं। खासकर गैंडों के लिए...

दुधवा में गैंडों के लिए लगा सोलर वाटर प्रोजेक्ट
हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीThu, 30 May 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

लखीमपुर। मौसम का असर इंसान ही नहीं, वन्यजीवों पर भी खूब है। दुधवा के वन्यजीवों को गर्मी से निजात दिलाने के लिए खास इंतजाम किए गए हैं। खासकर गैंडों के लिए पर्याप्त पानी की व्यवस्था की गई है। उनके वास स्थल पर सोलर वाटर प्रोजेक्ट लगाया गया है। जिससे उनको सोलर एनर्जी से पानी मिलता रहे और शरीर में तापमान नियंत्रित रहे।
उत्तर प्रदेश में एक सींग वाले गैंडे सिर्फ दुधवा में ही पाए जाते हैं। यहां उनके परिवार में 42 के करीब सदस्य हैं। दुधवा में गैंडों के लिए दो जगहों पर पुनर्वास केंद्र हैं। एक सोनारीपुर में और दूसरा भादी ताल के पास। जानकारों का कहना है कि गैंडे पानी और दलदली भूमि में रहने के आदी होते हैं। मोटी व सख्त चमड़ी होने के कारण इन पर गर्मी का असर ज्यादा होता है। पर इन दिनों गर्मी की वजह से गैंडों के घर में भी अब पानी की कमी पड़ने लगी है। इन हालातों को देखते हुए दुधवा प्रशासन ने गैंडा परिवार के लिए भी खास इंतजाम किए हैं। यहां पानी की लगातार सप्लाई के लिए सोलर वाटर सिस्टम लगाया गया है। सौर्य ऊर्जा से इस वाटर सिस्टम को चलाया जा रहा है। लगातार सात घंटे तक पानी की सप्लाई होती रहे। दुधवा के उप निदेशक ललित वर्मा ने बताया कि वन्यजीवों के लिए पानी की कमी न रहे, इसके लिए डब्ल्यूडब्ल्यूएफ की मदद से पानी का इंतजाम किया गया है। सठियाना रेंज में एक, बेलरायां रेंज के भादी ताल में एक, दक्षिण सोनारीपुर में एक, दुधवा रेंज में एक यानी कुल चार सोलर वाटर पंप लगाए गए हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।