DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखीमपुरखीरी › आवासों की धीमी प्रगति पर दो सचिवों के निलम्बन की संस्तुति
लखीमपुरखीरी

आवासों की धीमी प्रगति पर दो सचिवों के निलम्बन की संस्तुति

हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीPublished By: Newswrap
Fri, 06 Aug 2021 04:01 AM
आवासों की धीमी प्रगति पर दो सचिवों के निलम्बन की संस्तुति

मितौली। आवासों की धीमी प्रगति को लेकर बीडीओ काफी नाराज है। उन्होंने सख्त रूख अपनाते हुए दो सचिवों के निलम्बन की सिफारिश की है। डीओ को भेजे गए पत्र में बीडीओ ने 24 घंटे में प्रगति न होने पर कार्रवाई की मांग की है। इससे सचिवों में हडकम्प मच गया है।

अभी पिछले महीने ही उच्चाधिकारियों की समीक्षा के दौरान मितौली में आवासों की प्रगति संतोष जनक नहीं पाई थी। अधिकारियों ने भी पंचायतों का दौरा कर हकीकत देखी थी। आवासो की प्रगति ठीक न होने पर 13 पंचायतों के सचिवों पर कार्रवाई की तलवार लटकी थी। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर बीडीओ चंदन देव पांडे भी लगातार आवासों की समीक्षा कर रिर्पोट अधिकारियो को भेज रहे थे। इस पर कुछ पंचायतों में तेजी से सुधार देखने को मिला था। लेकिन फिर भी कई पंचायतों में सुधार न होने पर बीडीओ ने समीक्षा के दौरान कडी चेतावनी दी थी।

बीडीओ चंदन देव पांडे ने बताया कि आवासों की समीक्षा के दौरान संतोष जनक प्रगति न पाएं जाने पर कई सचिवों को चेतावनी दी गई थी। ग्राम पंचायत ढखिया कुस्तौल व लल्हौआ में करीब 53-53 आवास बनने है। पहली किस्त जारी न होने से लाभार्थी परेशान घूम रहा है। चेतावनी के के बाद भी लापरवाही सामने आई है। इस पर लल्हौआ पंचायत के सचिव धर्मेद्र बहादुर व ढखिया कुस्तौल की सचिव रीतू यादव के निलम्बन की संस्तुति की गई है। साथ ही 24 घंटे में काम में प्रगति न दिखने पर कार्रवाई को कहा गया है।

संबंधित खबरें