ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश लखीमपुरखीरीसीतापुर-लखनऊ रूट पर ट्रायल की तैयारी, लखीमपुर की बारी

सीतापुर-लखनऊ रूट पर ट्रायल की तैयारी, लखीमपुर की बारी

ऐशबाग से मैलानी के बीच हो रहे आमान परिवर्तन काम में तेजी आ गई है। ऐशबाग सीतापुर के बीच रेलवे की कार्यदायी संस्था इस रूट पर मालगाड़ी के ट्रायल की तैयारी में है। दो दिन पहले इंटौजा-खैराबाद के बीच एक...

सीतापुर-लखनऊ रूट पर ट्रायल की तैयारी, लखीमपुर की बारी
हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीSun, 22 Jul 2018 11:54 PM
ऐप पर पढ़ें

ऐशबाग से मैलानी के बीच हो रहे आमान परिवर्तन काम में तेजी आ गई है। ऐशबाग सीतापुर के बीच रेलवे की कार्यदायी संस्था इस रूट पर मालगाड़ी के ट्रायल की तैयारी में है। दो दिन पहले इंटौजा-खैराबाद के बीच एक मालगाड़ी निकालने की भी सूचना है।

लखनऊ से सीतापुर तक ट्रायल की तैयारी तेजी से चल रही है। हालांकि इसका अभी समय निर्धारित नहीं है क्योंकि इस रूट पर अभी काम बाकी है जो तेजी से चल रहा है। ऐशबाग से पीलीभीत के बीच आमान परिर्वतन कर ब्राडग्रेज काम चल रहा है। इस काम को पूरा करने के लिए तीन चरण बनाकर काम किया जा रहा है। पहले चरण में ऐशबाग से सीतापुर के बीच ट्रेनों का संचालन बंद कर लाइन डालने का काम शुरु किया गया। इसके बाद दूसरे चरण में सीतापुर से मैलानी के बीच ट्रेन का संचालन बंद कर काम शुरू किया गया। आखिरी चरण में मैलानी-पीलीभीत के बीच ट्रेनों का संचालन बंद किया गया। रेलवे का कहना है इसी तरह से बड़ी लाइनों की ट्रेनों का संचालन भी शुरू किया जाएगा। पहले चरण में सीतापुर तक इसके बाद मैलानी तक और बाद में पीलीभीत तक ट्रेन का संचालन शुरू किया जाएगा। सीतापुर-लखनऊ रेलवे ट्रेक लगभग तैयार है। यहां ट्रायल की तैयारी चल रही है। बताया जाता है कि दो दिन पहले इंटौजा से खैराबाद तक एक मालगाड़ी चलाई गई थी। ट्रैक चेक किया जा रहा है। कुछ काम बाकी है। जल्द ही यहां ट्रायल शुरू होगा। इसी के साथ लखीमपुर के लोगों की उम्मीदें भी बढ़ गई हैं। लोगों को उम्मीद है कि जल्द ही सीतापुर से मैलानी तक ट्रायल हो और ट्रेनें चलें। हालांकि अभी इस रूट पर काम चल रहा है। काम पूरा होने के बाद ही ट्रायल होगा फिर ट्रेनें चलेंगी। सांसद ने दिसम्बर तक काम पूरा होने की बात कही है। अधिकारी की बात ब्राडगेज का अभी काम चल रहा है। कार्यदाई संस्था आरवीएनएल रुटीन वर्ग के तहत ट्रायल और अन्य कार्य खुद से कर रही है। रेलवे ने अभी ट्रायल नहीं किया है। ट्रैक और व्यवस्थाएं कंपलीट होने के बाद ही ट्रायल होगा। इसकी तारीखों का ऐलान किया जाएगा। आलोक श्रीवास्तव, पीआरओ