DA Image
29 जून, 2020|8:18|IST

अगली स्टोरी

सीमा खुलते ही वापस जाएंगे नेपाली, फिलहाल यहीं रहेंगे

सीमा खुलते ही वापस जाएंगे नेपाली, फिलहाल यहीं रहेंगे

कर्नाटक और महाराष्ट्र से वापस आए 235 लोगों को धौरहरा में शुक्रवार को होम क्वारंटीन कर दिया गया। एडीएम खीरी और एसडीएम धौरहरा की मौजूदगी में राजकीय इंटर कालेज धौरहरा में सभी की मेडिकल जांच की गई। बाद में सभी को एक-एक राशन किट देकर एकांतवास के निर्देश के साथ घर भेज दिया गया।

शुक्रवार को धौरहरा में रहने वाले प्रवासी कामगारों को लेकर सरकारी बसें पहुंची। कस्बे के राजकीय इंटर कालेज में सीएचसी धौरहरा की टीमों ने बाहर से आए 235 लोगों का मेडिकल परीक्षण किया। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद 235 लोगों को एक-एक राशन किट दी गई। एसडीएम एस. सुधाकरन ने कर्नाटक और महाराष्ट्र से आए कामगारों को होम क्वारंटीन रहने के निर्देश के साथ घर जाने की अनुमति दी। एसडीएम ने बताया कि होम क्वारंटीन किए गए लोगों की स्थानीय निगरानी समितियां देखभाल कर प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य। सम्बन्धी सूचनाएं देंगी।

एडीएम ने किया इंतजामों का मुआयना

इस बीच एडीएम अरुण कुमार सिंह भी धौरहरा पहुंच गए। एसडीएम एस. सुधाकरन को साथ लेकर एडीएम अरुण कुमार सिंह नगर पंचायत धौरहरा व तहसील परिसर में चल रही कम्युनिटी किचेन का निरीक्षण किया। एडीएम ने किचेन की व्यवस्थाओं पर संतुष्टि जताई।

72 लोग हैं धौरहरा में क्वारंटीन

इसके बाद एडीएम सिसैया की दी एलीट एकेडमी में बने क्वारंटीन सेंटर का निरीक्षण किया। यहां नेपाल के 72 नागरिक क्वारंटीन हैं। नेपाली नागरिकों को एडीएम और एसडीएम ने बताया कि नेपाल सीमा खुलते ही उन्हें वापस उनके वतन भेज दिया जाएगा। यहां क्वारंटीन 72 नेपाली नागरिक इलाहाबाद और लखनऊ से पैदल ही चले आए थे। जिन्हें खीरी बहराइच सीमा पर रोंकने के बाद क्वारंटीन कर दिया गया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nepalese will go back as soon as the border opens will stay here for the time being