DA Image
21 अप्रैल, 2021|11:07|IST

अगली स्टोरी

घरों पर नमाज, माहे रमजान अलविदा, अलविदा

घरों पर नमाज, माहे रमजान अलविदा, अलविदा

पवित्र माहे रमजान के अंतिम शुक्रवार को पढ़ी जाने वाली अलविदा की नमाज घर पर अदा की गई। प्रशासन सुबह से मुस्तैद रहा। शुक्रवार को भी लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया।

प्रशासन ने कई दिनों से ताकीद किया था कि अलविदा की नमाज घर पर ही पढ़ी जाए। रोजेदारों ने इसका पालन किया। शुक्रवार को भी घरों में ही लोगों ने नमाज पढ़ी। मस्जिदों में बहुत कम लोग ही गए। संवेदनशीलता को देखते हुए प्रशासन और पुलिस की टीम मस्जिदों के बाहर तैनात रही।

गोला-पलिया में घरों में अदा की गई अलविदा की नमाज

गोला गोकर्णनाथ खीरी। शुक्रवार को अलविदा की नमाज हुई। इस बार नमाज मस्जिदों में नहीं बल्कि घरों में अदा की गई। इसके लिए लॉक डाउन के कारण सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए शासन द्वारा निर्णय लिया गया था। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकना है।

पलियाकलां-खीरी। अलविदा की नमाज के दौरान लॉक डाउन का उल्लंघन ना हो सके इसको लेकर सीओ राकेश नायक ने पुलिस बल के साथ एक-एक कर सभी मस्जिदों का जायजा लिया। नमाज के समय सभी मस्जिदों पर पुलिस बल तैनात रहा। वहीं नमाजियों ने अपने अपने घरों में शांतिपूर्ण ढंग से अलविदा की नमाज अता की। इस दौरान अपराध निरीक्षक अनिल कुमार यादव, कोतवाल विद्या शंकर शुक्ला सहित थाने व चौकी का पुलिस बल तैनात रहा।

मस्जिद में नमाज की सूचना पर जुटे लोग

सिकंद्राबाद खीरी। सिकंद्राबाद में बाहर से आये एक अज्ञात वर्दीधारी अपने आप को दीवान बताते हुए जामा मस्जिद पहुंचा। बताते हैं कि उसने मौलाना से अलविदा की नमाज सामूहिक रूप से अदा करने की सूचना दी, फिर कहीं गायब हो गया। वर्दीधारी की बात पर विश्वास कर मौलाना ने कस्बे में ऐलान कर दिया कि मुस्लिम समुदाय के सब लोग अलविदा के नमाज में एक साथ पढ़ने के लिए समय से आ जाएं।

थोड़ी ही देर में कस्बा निवासी सैकड़ों लोगों अलविदा की नमाज पढ़ने के लिए जामा मस्जिद पहुंच गये। मामले की जानकारी होते ही चौकी प्रभारी राजेश कुमार चौधरी मयफोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये। लोगों से घरों को वापस जाने के लिए कह कर घर पर ही अलविदा की नमाज पढ़ने की अपील की है। चौकी प्रभारी राजेश कुमार चौधरी ने बताया है। कस्बा निवासी युवक बदशाह से अज्ञात वर्दीधारी का हुलिया पता कर झूठी अफवाह फैला समाज में उन्माद पैदा करने बाले अज्ञात आरोपी की तलाश की जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Namaz at home Mahe Ramadan bye bye