DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क किनारे बेचा मीट तो होगी कार्रवाई, जुर्माना भी

हिन्दू युवा वाहिनी ने डीएम को ज्ञापन सौंपकर सड़कों के किनारे खुलेआम पशुओं को काटकर मीट बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। डीएम के निर्देश पर एफएसडीए की टीमों ने छापामारी शुरू कर दी है। सड़कों के किनारे खुले में मीट बिक्री करते मिलने पर कार्रवाई होगी और जुर्माना भी वसूला जाएगा।

हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने तीन दिन पहले डीएम शैलेन्द्र सिंह को ज्ञापन सौंपकर कहा था कि सड़कों के किनारे खोखों में खुले में मीट की बिक्री होती है। यहां पशुओं का वध करके उन्हें काटा जाता है। जबकि सावन का महीना चल रहा है। कांवड़िया इधर से गुजरते हैं। इस पर प्रतिबंध लगाया जाए। डीएम ने इस मामले में एफएसडीए को कार्रवाई का निर्देश दिया है। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी अमर सिंह वर्मा ने बताया कि खोखों आदि में मीट की बिक्री पहले से ही प्रतिबंधित है। छापामार अभियान शुरू किया गया है। सड़कों के किनारे खुले में मीट बिक्री मिलने पर विक्रेता के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जुर्माना भी वसूला जाएगा। उन्होंने बताया मीट बिक्री के लिए लाइसेंस लेना जरूरी है, खुले में मीट की बिक्री नहीं की जा सकती है।

कांवड़ियों के रास्ते से हटेंगी दुकानें: सावन महीने में छोटी काशी गोला को जाने वाले कांवड़ियों के रास्ते में पड़ने वाली सभी मीट की दुकानें हटाई जाएंगी। जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि खाद्य निरीक्षकों को निर्देश दिया गया है कि जिन रास्तों से कांवड़िया निकल रहे हैं उन रास्तों पर अगर कहीं कोई मीट की दुकान चल रही है तो उसे तत्काल बन्द कराया जाए। इसके बाद भी अगर कोई दुकान खुली मिली तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Meets sold on the road side will be action, fines also