DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखीमपुरखीरी › निजी भूमि पर तालाब बनाकर करें मछली उत्पादन, मिलेगा अनुदान
लखीमपुरखीरी

निजी भूमि पर तालाब बनाकर करें मछली उत्पादन, मिलेगा अनुदान

हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीPublished By: Newswrap
Sat, 31 Jul 2021 11:40 PM
निजी भूमि पर तालाब बनाकर करें मछली उत्पादन, मिलेगा अनुदान

लखीमपुर-खीरी।

खेती किसानी के साथ ही जिला मछली उत्पादन का हब भी बन रहा है। पहले लोग सरकारी तालाबों को पट्टे पर लेने के बाद उसमें मछली पाल रहे थे। मछली पालन काफी फायदे का सौदा साबित हो रहा है। अब लोग निजी जमीन पर तालाब बनवाकर उसमें भी मछली पालन कर रहे हैं। खास बात यह है कि सरकार अब इस पर अनुदान भी दे रही है। निजी भूमि पर तालाब बनाकर मछली पालन के लिए मत्स्य विभाग अब अनुदान भी देने रहा है।

सहायक निदेशक मत्स्य संजय यादव ने बताया कि मत्स्य विकास कार्यक्रम के तहत मत्स्य को बढ़ावा दिया जा रहा है। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत निजी भूमि पर तालाब बनाकर निवेश की व्यवस्था है। इसमें परियोजना लागत सात लाख प्रति हेक्टेयर है। निवेश के लिए डेढ़ लाख प्रति हेक्टेयर निर्धारित है। सहायक निदेशक मत्स्य ने बताया कि इच्छुक लोग कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि परियोजना लागत पर 40 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। यह अनुदान परियोजना अंश के रूप में दिया जाएगा। सहायक निदेशक मत्स्य ने बताया कि 60 प्रतिशत से खुद की जमीन पर काम कराना होगा इसके बाद अनुदान दिया जाएगा। अनुदान दो समान किश्तों में डीबीटी के माध्यम से दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाति में एक हेक्टेयर और सामान्य वर्ग में नौ हेक्टेयर निजी जमीन पर तालाब निर्माण के लिए लाभार्थी मत्स्य विभाग की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी कार्यालय में आकर कर सकते हैं।

संबंधित खबरें