अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैगलगंज के पास मालगाड़ी डीरेल, चढ़ गए डिब्बे-

मैगलगंज के पास मालगाड़ी डीरेल, चढ़ गए डिब्बे-

1 / 3मैगलगंज-खीरी। सीतापुर से शाहजहांपुर की ओर जा रही मालगाड़ी के चार खाली डिब्बे मैगलगंज के पास पटरी से उतर गए। ट्रेन सिर्फ डीरेल ही नहीं हुई, उसके...

मैगलगंज के पास मालगाड़ी डीरेल, चढ़ गए डिब्बे-

2 / 3मैगलगंज-खीरी। सीतापुर से शाहजहांपुर की ओर जा रही मालगाड़ी के चार खाली डिब्बे मैगलगंज के पास पटरी से उतर गए। ट्रेन सिर्फ डीरेल ही नहीं हुई, उसके...

मैगलगंज के पास मालगाड़ी डीरेल, चढ़ गए डिब्बे-

3 / 3मैगलगंज-खीरी। सीतापुर से शाहजहांपुर की ओर जा रही मालगाड़ी के चार खाली डिब्बे मैगलगंज के पास पटरी से उतर गए। ट्रेन सिर्फ डीरेल ही नहीं हुई, उसके...

PreviousNext

सीतापुर से शाहजहांपुर की ओर जा रही मालगाड़ी के चार खाली डिब्बे मैगलगंज के पास पटरी से उतर गए। ट्रेन सिर्फ डीरेल ही नहीं हुई, उसके डिब्बे एक-दूसरे के ऊपर भी चढ़ गए। इस घटना के बाद यह रूट बंद हो गया है। पैसेंजर ट्रेनें रोकनी पड़ी हैं और एक्सप्रेस ट्रेन का रूट बदला गया है।

सीतापुर से शाहजहांपुर जा रही मालगाड़ी बीसीएन लांग हॉल रविवार की सुबह डीरेल हो गई। मैगलगंज के करीब नेरी स्टेशन के क्रासिंग पर ट्रेन पटरी से उतर गए। ट्रेन के डिब्बे एक दूसरे पर चढ़ जाने से यह रूट बंद हो गया। इसके अलावा ऊपर से निकली इलेक्ट्रिकल लाइन भी क्षतिग्रस्त हो गई। सात घंटों तक ट्रेन रूट को बहाल नहीं किया जा सका। पहले शाहजहांपुर से एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन आई। इसके बाद मुरादाबाद मंडल के रेल अफसर पहुंचे। अब तक साफ नहीं हो सका है कि ट्रेन किस वजह से डीरेल हुई। रेलवे सूत्रों का कहना है कि ट्रैक की खराबी की वजह से यह हादसा हुआ है, लेकिन अब तक इसकी पुष्टि नहीं है।जहां थीं, वहीं रोक दी गई ट्रेनें, नजारा देख लोग दंग-गनीमत थी कि मालगाड़ी हुई डीरेल-अब बालामऊ होकर निकाली जा रहीं ट्रेनेंमैगलगंज-खीरी। सीतापुर रेल रूट पर रविवार की सुबह-सुबह रेल हादसा हो गया। मालगाड़ी के चार डिब्बे डिरेल हो गए। गाड़ी की रफ्तार अधिक होने के कारण ये डिब्बे एक-दूसरे पर चढ़ गए। अप-डाउन लाइन पूरी से ठप हो गई। बिहार की ओर जाने सभी गाड़ियों को जहां-तहां स्टेशनों पर रोक दिया गया। मुरादाबाद मंडल आफिस और लखनऊ से भी टीमें जांच को पहुंच गईं। रेल सूत्रों के मुताबिक, रविवार की सुबह करीब साढ़े नौ बजे सीतापुर की ओर से एक मालगाड़ी आ रही थी। यह मालगाड़ी नॉनस्टॉप थी। अचानक नेरी के आगे पिसावां क्रासिंग पर ट्रेन डीरेल हो गई। गाड़ी की स्पीड़ करीब 60 किलोमीटर प्रतिघंटा होगी। डिब्बे एक-दूसरे पर चढ़ गए। लोको पायलेट ने कंट्रोल रूम को सूचना दी। इसके बाद गोंडा-बिहार जाने और आने वाली सभी गाड़ियों को रोक दिया गया। रोजा, शाहजहांपुर, सीतापुर, पीतांबरपुर, कटरा, तिलहर और बरेली जंक्शन पर गाड़ियां रोकी गईं। ट्रैक मरम्मत कार्य को शुरू करा दिया गया है। काफी दूर तक ट्रैक उखड़ गया। आरपीएफ-जीआरपी और क्षेत्रीय रेल अफसर पहुंच गए। लखनऊ और मुरादाबाद मंडल आफिस से भी जांच को टीमें भेजी गई हैं। माना जा रहा है कि कहीं न कहीं ट्रैक में खराबी के कारण यह हादसा हुआ है।

कुछ को रोका, कुछ के रूट बदले: रेलवे के अफसरों ने बताया कि ट्रैक की खराबी की वजह से 15209 सहरसा-अमृतसर जनसेवा एक्सप्रेस का रूट बदल दिया गया। इस ट्रेन को सीतापुर-बालामऊ होकर शाहजहांपुर भेजा गया। उधर शाहजहांपुर-कानपुर 54328 डाउन को जहानीखेड़ा रेलवे स्टेशन पर रोक दिया गया। जबकि गोंडा-शाहजहांपुर 55045 अप को सीतापुर में रोके रखा गया है। अभी इन ट्रेनों को निरस्त नहीं किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Maalgadi Derell near Magalgunj, climbed cans