DA Image
23 जनवरी, 2020|8:59|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Exclusive : पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र को इस काम में छोड़ा पीछे, प्रदेश के इन महानगरों से कहीं आगे निकला लखीमपुर

exclusive

स्वच्छता सर्वे में मोबाइल फीडबैक के मामले में प्रदेश की विभिन्न नगर पालिकाओं और महानगरों में जबरदस्त फाइट है। अच्छी बात यह है कि इसमें नगर पालिका स्तर पर लखीमपुर अभी तक नंबर एक पर डटा हुआ है। खास बात यह है कि बरेली और मेरठ जैसे बड़े शहर अभी तक लखीमपुर से पीछे चल रहे है। प्रधानमंत्री का क्षेत्र वाराणसी भी लखीमपुर से काफी पीछे है। हालांकि महानगरों में कानपुर ने नोएडा को पीछे कर एक नंबर पर स्थान बनाया है। 

प्रदेश के विभिन्न शहरों में केंद्र सरकार स्वच्छता सर्वे करा रही है। इसमें विभिन्न मानकों पर 6000 अंक निर्धारित हैं। नंबर वन रहने वाले शहर के स्मार्ट सिटी बनने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी। इसके अलावा कई अन्य लाभ होंगे। शहर के विकास के लिए शासन से निधि की भी बढ़त्तरी हो जाएगी। इसके प्रथम चरण में सिटीजन फीडबैक चलाया जा रहा है। सिटीजन फीडबैक के सर्वे में 1500 अंक हैं।  इसमें शहर के लोगों को मोबाइल से अपने जवाब देने हैं और शहर की स्वच्छता के विषय में बताना है।

नगर पालिका के प्रचार प्रसार के बाद शहर की जनता इसके लिए जागरूक हो गई है। हालांकि फीडबैक के मामले में अभी तक गाजियाबाद नंबर एक पर था लेकिन सोमवार को कानपुर ने गाजियाबाद को चौथे नंबर पर धकेल कर नंबर एक पर अपना स्थान बना लिया है। महानगरों में दूसरे नंबर पर आगरा और तीसरे पर लखनऊ है। इसके अलावा नगर पालिका स्तर पर लखीमपुर अभी तक नंबर एक पर है।  मेरठ और प्रधानमंत्री का शहर वाराणसी भी लखीमपुर से काफी पीछे चल रहा है। मेरठ के फीडबैक 3495 और वाराणसी 3255 पर ही है। गोरखपुर, हापुड़, इलाहाबाद और मोरादाबाद जैसे बड़े शहर काफी पीछे चल रहे हैं। 

लखीमपुर 10,790
बरेली 8991
वाराणसी 3255
गोरखपुर 2873
मोहम्मदी 1966

(यह शहर टॉप 50 में हैं)

जिले की मोहम्मदी है 27वें स्थान पर 

स्वच्छता सर्वे में जहां प्रदेश में लखीमपुर नगर पालिका नंबर एक पर है वहीं मोहम्मदी नगर पालिका भी 1966 फीडबैक पाकर 27वें स्थान पर संघर्ष कर ही है। जिले की अन्य कोई नगर पालिका या नंगर पंचायत अभी तक टाप पचास में स्थान नहीं बना पाई है। इससे लखीपमुर और मोहम्मदी की संभावनाएं बढ़ गई हैं। 

शहर के लोगों को किया जा रहा है प्रेरित 

स्वच्छता सर्वे को लेकर शहर के लोगों को लगातार प्रेरित किया जा रहा है नगर पालिका के सभी कर्मचारी और सभासद अपने शहर को नंबर एक पर लाने के लए लगे हैं। शहर के लोग भी जागरूक हुए हैं इसी का नतीजा है कि फीडबैक की संख्या में रोज इजाफा हो रहा है। उम्मीद है कि हम नंबर एक पर आ जाएंगे। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Left behind PM Modi parliamentary constituency in this work Lakhimpur came out ahead of these metros of the state