DA Image
28 नवंबर, 2020|11:05|IST

अगली स्टोरी

दुधवा और पीलीभीत टाइगर रिजर्व में आज से जंगल का रोमांच

दुधवा और पीलीभीत टाइगर रिजर्व में आज से जंगल का रोमांच

लखीमपुर/पीलीभीत। नौ महीने की तालाबंदी के बाद रविवार की सुबह खीरी का दुधवा नेशनल पार्क सैलानियों के लिए खुल जाएगा। वहीं पीलीभीत टाइगर रिजर्व (पीटीआर) भी खुल रहा है। दोनों स्थानों पर तैयारी पूरी कर ली गई है। कोविड-19 के खतरे को देखते हुए दोनों स्थानों पर विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। सैलानियों के लिए जहां नए नियम बनाए गए हैं वहीं जंगल स्टाफ को भी गाइडलाइन का पालन कराने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है।

दुधवा में बच्चे और बुजुर्गों की एंट्री बंद रहेगी। ऑनलाइन प्रणाली के तहत दुधवा के शीतकालीन सत्र का फीता काटकर शुभारंभ होगा। वन मंत्री दुधवा के शीतकालीन सत्र का वर्चुअल फीता काटकर आगाज करेंगे।

उधर, लॉकडाउन में तय समय से पहले बंद किए गए पयर्टन सत्र को वर्ष 2020-21 में काफी उम्मीदें हैं। घटी आय को पूरा करने के लिए इस बार पयर्टन सत्र पंद्रह दिन पूर्व पहली नवंबर से शुरू हो रहा है। यहां वनकटी रोड पर सिग्नेचर गेट से वनमंत्री आनलॉइन पयर्टन सत्र शुरू कर देंगे।

दुधवा में 9 महिला गाइड व 55 पुरुष कराएंगे जंगल की सैर

एक नवंबर से शीतकालीन सत्र का शुभारंभ हो रहा है। जिसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। दुधवा जंगल की सैर कराने के लिए सात महिला गाइड भी नियुक्त की गई हैं। इसमें मैलानी की शानिफा खान, निधि भारती, चंदनचौकी की नेहा, सुलोचना, निधि, देवकी राना, कुमारी रीति आदि शामिल हैं। सभी पूर्व से दुधवा के चप्पे चप्पे से वाकिफ हैं। दुधवा में सैलानियों को जंगल सफारी किस शहर कराने के लिए कुल 64 गाइडों को लगाया गया है जिनमें 9 महिलाएं व 55 पुरुष गाइड शामिल हैं।

पीटीआर इस बार महोफ रेंज भी सैलानियों को लुभाएगा

चूका और मुस्तफबाद के बाद अब महोफ भी सैलानियों को काफी आकर्षित करेगा। इस बार महोफ को भी खूब संवारा गया है। चूका के लिए प्रवेश द्वार संख्या एक होने के कारण यहां से भी काफी सैलानी जाते हैं। यहां पर टाइगर रिजर्व की ओर से शेल्फी प्वांइट को बनाया गया तो प्रकृति चित्रण में वन्यजीवों के सजीव चित्रण किए गए हें। शनिवार को प्रशिक्षु डीएफओ ने यहां आकर तैयारियों को अंतिम रूप दिया।

दुधवा नेशनल पार्क

प्रति व्यक्ति प्रवेश शुल्क 100 रुपये

वन मार्ग शुल्क प्रति वाहन 300 रुपये

व्यवसायिक कैमरा शुल्क छोटा डिजिटल मूवी कैमरा 500 रुपये

व्यवसायिक कैमरा शुल्क डिजिटल मूवी कैमरा 5000 रुपये

नेचर गाइड शुल्क, प्राइवेट प्रति सफारी 400 रुपये

जिप्सी शुल्क प्राइवेट प्रति सफारी 1550 रुपये

जिनान वाहन शुल्क प्रति सफारी 1300 रुपये व जीएसटी

विदेशी पर्यटकों के लिए

प्रति व्यक्ति प्रवेश शुल्क 800 रुपये

वन मार्ग शुल्क प्रति वाहन 300 रुपये

व्यवसायिक कैमरा शुल्क छोटा डिजिटल मूवी कैमरा 1000 रुपये

व्यवसायिक कैमरा शुल्क डिजिटल मूवी कैमरा 10000 रुपये

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jungle thrill in Dudhwa and Pilibhit Tiger Reserve from today