DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदान के बाद शुरू हुई जीत हार की चर्चा, जमकर हो रही डिबेट

मतदान के बाद शुरू हुई जीत हार की चर्चा, जमकर हो रही डिबेट

सोमवार को लोकसभा चुनाव का मतदान निपटने के बाद जहां सरकारी कार्यालयों में तांले लटकते रहे। वहीं दुकानों व तहसील तख्तों पर मौजूद भीड़ ने प्रत्याशियों की जीत हार पर जमकर डिबेट किया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक चुनाव पर ही चर्चा चलती रही।आचार संहिता के लगने के बाद चुनाव का शोर शुरु हो गया था। जैसे जैसे मतदान की तिथि नजदीक आती गई वैसे वैसे प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार तेज करते हुए मतदाताओं से वादों की झड़ी लगाते हुए अपने पक्ष में मतदान के लिये मीठे बोल बोलते दिखाई दे रहे थे। 29 अप्रैल को आखिरकार मतदाताओं ने प्रत्याशियों की किस्मत को ईवीएम मशीन में कैद कर दिया।

मतदान निपटने के अगले दिन जहां चुनाव में लगे सरकारी कर्मचारियों को रिलैक्स होने का मौका दिया गया जिसके चलते सभी सरकारी आफिस बंद रहे। वहीं मतदाताओं ने प्रत्याशियों की जीत हार पर चर्चा शुरु कर दी। मंगलवार को तहसील में मौजूद वरिष्ठ अधिवक्ता अमित महाजन, शारदा प्रसाद राणा, आशर्फी लाल शर्मा, सुनील शुक्ला, राजा राम वर्मा, संजय राठौर, रामलखन सिंह, सुरेश कुमार ओझा, राम प्रकाश पाल, कुंवर सेन जायसवाल, जीवन प्रकाश मैनरो के अलावा अजीत कुमार वर्मा आदि ने जमकर डिबेट किया। डिबेट के दौरान भाजपा व गठबंधन के बीच लड़ाई पर जमकर चर्चा हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Discussion of winning defeat after the voting begins fiercely debate