DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखीमपुरखीरी › बीएड वाले मास्टर नहीं, पंचायत सहायक बनने को बेताब
लखीमपुरखीरी

बीएड वाले मास्टर नहीं, पंचायत सहायक बनने को बेताब

हिन्दुस्तान टीम,लखीमपुरखीरीPublished By: Newswrap
Wed, 04 Aug 2021 03:31 AM
बीएड वाले मास्टर नहीं, पंचायत सहायक बनने को बेताब

लखीमपुर-खीरी।

ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए हैं। आवेदन 17 अगस्त तक जमा होंगे। पंचायत सहायक के लिए शैक्षिक योग्यता इंटर तक रखी गई है। हाईस्कूल व इंटर की मेरिट के आधार पर चयन होना है। लेकिन पंचायत सहायक बनने के लिए बीएड सहित अन्य डिग्री व डिप्लोमा वाले भी आवेदन कर रहे हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि आवेदन लिए जा रहे हैं। आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद मेरिट तैयार की जाएगी। इसमें शासनादेश के मुताबिक हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के अंकों के आधार पर ही मेरिट तैयार होगी।

ग्राम पंचायतों का कामकाज आसानी से हो इसके लिए सरकार हर ग्राम पंचायत में पंचायत घर बनाने और व्यवस्था दुरुस्त कराने में लगी है। सरकार ने पंचायत सहायक/एकाउंटेंट कम ऑपरेटर की संविदा पर नियुक्ति की तैयारी की है। जिले की 1165 ग्राम पंचायतों में तैनाती होनी है। सरकार की मंशा है कि पंचायत सहायक रोज पंचायत भवन में बैठकर ग्राम पंचायत के कामकाज निपटाएंगे। यहां से गांव वालों को आवेदन आदि ऑनलाइन करने की भी सुविधा दी जाएगी। जिससे गांव वालों को दौड़भाग न करनी पड़े। साथ ही ग्राम पंचायत सचिव भी पंचायत भवन में बैठेंगे। पंचायत सहायक की तैनाती के लिए आवेदन दो से 17 अगस्त के बीच मांगे गए हैं। आवेदन करने के लिए भीड़ उमड़ रही है। अगर देखा जाए तो दो दिनों में डीपीआरओ कार्यालय में ही 182 आवेदन पहुंच गए हैं। सूत्र बताते हैं कि जो आवेदन आए हैं उनमें कई ऐसे हैं जिनकी शैक्षिक योग्यता बीएड, एमएससी, एमए व डिग्री, डिप्लोमाधारी हैं। पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी न मिलने पर सभी खेती किसानी का काम कर रहे हैं। ऐसे में पंचायत सहायक की संविदा पर तैनाती के लिए आवेदन मांगे गए तो इन्होंने भी अपने आवेदन कर दिए हैं। आवेदन ग्राम पंचायत, ब्लॉक व डीपीआरओ कार्यालय में लिए जा रहे हैं। डीपीआरओ का कहना है कि ग्राम पंचायत, ब्लॉक या डीपीआरओ कार्यालय में आवेदन करने के बाद पावती रसीद जरूर प्राप्त कर लें। आवेदन 17 अगस्त तक जमा किए जाएंगे।

बोले डीपीआरओ

पंचायत सहायक की भर्ती के लिए शासनादेश जारी है। इसके मुताबिक हाईस्कूल व इंटर के अंकों के आधार पर मेरिट तैयार की जाएगी। आवेदन किसी भी डिग्री का कोई कर दे लेकिन मेरिट हाईस्कूल व इंटर के आधार पर ही बनाई जाएगी। चयन प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी होगी।

सौम्य शील सिंह, डीपीआरओ

संबंधित खबरें