DA Image
16 जनवरी, 2021|7:00|IST

अगली स्टोरी

आखिर गरजी जेसीबी, प्रशासन ने पॉवर हाउस तोड़ा

आखिर गरजी जेसीबी, प्रशासन ने पॉवर हाउस तोड़ा

1 / 2प्रशासन ने सोमवार को बिजली विभाग के पॉवर हाउस को ध्वस्त कर अतिक्रमण हटाने की शुरुआत कर दी। यह देखकर व्यापारियों में हड़कंप मच गया। व्यापारियों ने खुद...

आखिर गरजी जेसीबी, प्रशासन ने पॉवर हाउस तोड़ा

2 / 2प्रशासन ने सोमवार को बिजली विभाग के पॉवर हाउस को ध्वस्त कर अतिक्रमण हटाने की शुरुआत कर दी। यह देखकर व्यापारियों में हड़कंप मच गया। व्यापारियों ने खुद...

PreviousNext

लखीमपुर-खीरी।

प्रशासन ने सोमवार को बिजली विभाग के पॉवर हाउस को ध्वस्त कर अतिक्रमण हटाने की शुरुआत कर दी। यह देखकर व्यापारियों में हड़कंप मच गया। व्यापारियों ने खुद अपना अतिक्रमण तेजी से हटाना शुरू कर दिया है।

शहर की संकटा देवी रोड 45 फिट चौड़ी होनी है। इस पर 88 व्यापारियों का अतिक्रमण है। प्रशासन ने नोटिस जारी कर सभी व्यापारियों से अतिक्रमण हटाने की अपील की। लेकिन किसी भी व्यापारी ने अपना अतिक्रमण नहीं हटाया। प्रशासन की जेसीबी अतिक्रमण हटाने के लिए आ गई। व्यापारियों ने प्रशासन से बात की और अपना अतिक्रमण खुद हटा लेने की बात कही। प्रशासन ने उनको 27 दिसम्बर तक का समय दिया और अपनी जेसीबी हटा ली। दिए गए समय में व्यापारियों ने अतिक्रमण तो हटाया, लेकिन पक्का निर्माण नहीं तोड़ा गया। रविवार को ही प्रशासन ने कहा था कि अब कभी भी संकटा देवी रोड का अतिक्रमण हटाया जा सकता है। सोमवार की दोपहर अचानक प्रशासन की जेसीबी संकटा देवी रोड पहुंच गई। अतिक्रमण में बनी सरकारी इमारत को तोड़ना शुरू कर दिया। शाम तक प्रशासन ने पॉवर हाउस की पूरी इमारत तोड़कर गिरा दी। यह देखकर व्यापारियों में हड़कंप मच गया। जो अतिक्रमण अभी धीमी गति से हट रहा था। उसकी रफ्तार व्यापारियों ने तेज कर दी है। व्यापारियों का कहना है कि वह जल्द ही अपना अतिक्रमण हटा लेंगे।

अब नहीं मिलेगी व्यापारियों को मोहलत

एसडीएम सदर डॉ. अरुण कुमार सिंह ने बताया कि अब व्यापारियों को अतिक्रमण हटाने के लिए समय की और मोहलत नहीं मिलेगी। एसडीएम ने बताया कि जिन व्यापारियों को अपना अतिक्रमण खुद हटाना है वह जल्द से जल्द अपना अतिक्रमण हटा लें। अगर उनको किसी प्रकार की मदद की जरूरत है तो प्रशासन उनको जेसीबी और ट्रैक्टर-ट्राली मुहैया कराने को तैयार है। उसका कोई खर्च नहीं लिया जाएगा। प्रशासन ने अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया है। अब यह अभियान नहीं रुकेगा। मंगलवर को फिर अतिक्रमण हटाया जाएगा। जिस व्यापारी का प्रशासन अतिक्रमण हटाएगा। उसको अतिक्रमण हटने में आने वाले खर्च को देना होगा।

तेजी से अतिक्रमण हटाने लगे व्यापारी

सोमवार को जैसे ही प्रशासन ने एक बिल्डिंग तोड़ी। वैसे ही व्यापारियों ने भी तेजी से अपना अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया। अभी तक जिन व्यापारियों में अतिक्रमण हटाने को लेकर कन्फ्यूजन था। वह भी अपना अतिक्रमण हटाने लगे। कुछ व्यापारियों का कहना है कि वह एक दो दिनों में ही अपना पूरा अतिक्रमण हटा लेंगे। सोमवार को प्रशासन ने फिर एक बार साफ किया। अतिक्रमण 45 फिट ही हटेगा। अगर कोई गलत अफवाह फैलाता है। तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After all JCB administration broke the power house