ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश कुशीनगरनई प्रजाति के इस बीज से गन्ना न सूखेगा न गिरेगा

नई प्रजाति के इस बीज से गन्ना न सूखेगा न गिरेगा

कुशीनगर। गन्ना किसानों के लिए सुकून देने वाली खबर है। सेवरही गन्ना शोध संस्थान...

नई प्रजाति के इस बीज से गन्ना न सूखेगा न गिरेगा
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,कुशीनगरMon, 01 Aug 2022 09:00 AM
ऐप पर पढ़ें

कुशीनगर। गन्ना किसानों के लिए सुकून देने वाली खबर है। सेवरही गन्ना शोध संस्थान ने सामान्य प्रजाति का ऐसा गन्ना बीज तैयार किया है, जिससे गन्ने की फसल न तो सूखेगी और न ही गिरेगा। इतना ही नहीं इसकी एक एकड़ में औसत उपज 400 प्रति कुंतल और चीनी का परता भी दमदार है।

रेड रॉट बीमारी से ग्रस्त गन्ना बीज की वेरायटी कोसा 238 व 239 पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इस वेरायटी की अच्छाई यह थी कि उपज तो अधिक थी ही, इसमें चीनी परता भी अच्छा था। नवम्बर महीने में इस वेरायटी में 10 से ऊपर का चीनी परता मिलता था। गन्ना किसान संस्थान एवं प्रशिक्षण केंद्र पिपराइच के सहायक निदेशक ओमप्रकाश गुप्ता ने बताया कि उससे पहले क्षेत्र के किसानों को खुशहाल करने वाली वेरायटी बीओ 91 को करीब 15 साल बाद किसानों ने इसलिए छोड़ दी कि उससे अधिक पैदावार देने वाली वेरायटी 92423 आ गई। यह वेरायटी भी किसानों को खूब भाई और करीब 20 वर्ष तक किसान इसे बोते रहे, लेकिन जादुई वेरायटी कोसा 238 व 239 के आने के बाद यह प्रजाति भी विलुप्त हो गई। रेड रॉट बीमारी ने इन दोनों प्रजातियों की छुट्टी कर दी।

अब बाबू गेंदा सिंह प्रजनन एवं अनुसंधान केन्द्र सेवरही के वैज्ञानिकों ने बीओ 91 के क्रॉस से कोसे 11453 प्रजाति का नया गन्ना बीज तैयार किया है। यह सामान्य प्रजाति है, लेकिन इसकी औसत उपज कोसा 238 व 239 से अधिक 400 कुंतल प्रति एकड़ है। यही नहीं नवम्बर माह में ही इस प्रजाति में चीनी का परता 11.7 और मार्च महीने 13.45 बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 92423 से क्रॉस कर तैयार की गई दूसरी वेरायटी 13452 की औसत उपज 350 से 400 कुंतल प्रति एकड़ है। नवम्बर माह में यह वेरायटी 11.72 और मार्च में 14 की रिकवरी देगी। उन्होंने बताया कि यह दोनों प्रजाति यहां की मिट्टी और वातावरण के अनुसार तैयार की गई हैं। इनमें न तो रेड रॉट रोग लगने की संभावना है और न ही सूखने की। यह प्रजाति किसानों के लिए वरदान साबित होगी। किसानों को इस सामान्य प्रजाति के गन्ने को अवश्य लगाना चाहिए। किसान सेवरही फार्म में पहुंचकर इस बीज से तैयार गन्ना देख भी सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस गन्ने की सबसे अच्छी खासियत यह है कि इसकी पेड़ी फसल की पैदावार भी काफी अच्छी है।

epaper