SDM and Police reached to remove encroachment faced misbehavior in Kushinagar - अतिक्रमण हटवाने गए एसडीएम और पुलिस से धक्कामुक्की, दो पक्षों में पथराव DA Image
15 दिसंबर, 2019|5:45|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अतिक्रमण हटवाने गए एसडीएम और पुलिस से धक्कामुक्की, दो पक्षों में पथराव

कुशीनगर में रामकोला नगर पंचायत के मुख्य तिराहे पर पंजाब नेशनल बैंक के सामने एक विवादित जमीन से अतिक्रमण हटाए जाने को लेकर सोमवार को कुछ लोगों ने बवाल कर दिया। बवाल के दौरान एसडीएम और पुलिस फोर्स से धक्कामुक्की भी की गई। इस दौरान दो पक्षों में पथराव हुआ, जिसमें जेसीबी का शीशा टूट गया और कई लोग चोटिल भी हो गए। एहतियातन विवादित स्थल पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

सोमवार की सुबह एसडीएम अरविंद कुमार पुलिस फोर्स के साथ एनएचआई के असिस्टेंड इंजीनियर संदीप वर्मा को लेकर मौके पर पहुंचे। नगर पंचायत के मुख्य तिराहे पर स्थित पंजाब नेशनल बैंक के बगल में एक विवादित जमीन पर हुए अतिक्रमण हटवाने लगे। 

बताया जा रहा है कि एनएच 730 के निर्माण में यह अतिक्रमण रोड़ा बन रहा था। अतिक्रमण हटवाने के दौरान पहले से कब्जा जमाए एक युवक आया और अपना पेपर दिखाने लगा। इस बीच मामले में थोड़ा तल्खी आ गई और पुलिस ने युवक को थाने में बैठा लिया।
 
शाम चार बजे बसपा नेता बिजेंद्रपाल बबलू यादव अपने समर्थकों के साथ पहुंचे और वहां उनकी प्रशासन के साथ तीखी बहस होने लगी। इसी दौरान कुछ लोग ईंट चलाने लगे, जिसके चलते वहां अफरातफरी का माहौल हो गया। इस बीच कुछ लोग एसडीएम और पुलिस फोर्स के साथ धक्कामुक्की करने लगे। इसके चलते एक बार फिर माहौल गरम हो गया। 

एकबारगी लगा कि यहां बड़ा विवाद हो जाएगा पर पुलिस ने हालात को नियंत्रित कर लिया। कुछ ही देर में पूर्व सांसद और बसपा नेता बालेश्वर यादव भी मौके पर पहुंचे उस समय भी माहौल गर्म हो गया और जबरजस्त नारेबाजी होने लगी। कुछ लोग जहां से अतिक्रमण हटाया गया था, वहां कटरैन डालने लगे। 

पूर्व सांसद ने उन्हें मना करते हुए एसडीएम से वार्ता की। साथ ही उन्होंने बिना किसी नोटिस के दुकान हटाए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। समाचार लिखे जाने तक मामले में तनाव बना हुआ था। एक पक्ष के सैकड़ों लोग विवादित स्थल पर जमे हुए थे। एहतियातन मौके पर भारी मात्रा में पुलिस फोर्स तैयार कर दिया गया है।

एनएचआई में शिकायत की गई थी कि कुछ लोगों ने अवैध कब्जा कर अस्थाई निर्माण कर दुकान किराए पर दी है। इसकी पैमाइश की गई थी, जो एनएच कि जमीन पाई गई। एनएचएआई के अधिकारियों की मौजूदगी में अतिक्रमण हटाया गया। इस दौरान कुछ लोगों ने शांति व्यवस्था में खलल डालने की कोशिश की। उन्हें चिह्नित कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
अरविंद कुमार, एसडीएम, कप्तानगंज

प्रशासन जानबूझकर भाजपा नेताओं और शासन के निर्देश पर एक जाति के लोगों पर अत्याचार कर रहा है। बिना किसी नोटिस के प्रशासन ने दुकान उजड़वा दी, जो नियम विरुद्ध है। 
बालेश्वर यादव, पूर्व सांसद

मेरे घर के दरवाजे को 26 साल से ईंट की दीवार से बंद कर दिया गया है। हमारे परिवार के लोग नरक की जिंदगी जी रहे हैं। पीछे के रास्ते से आना-जाना पड़ता है। 
पवन चौधरी (अग्रवाल)-अतिक्रमण से प्रभावित नागरिक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:SDM and Police reached to remove encroachment faced misbehavior in Kushinagar