DA Image
21 सितम्बर, 2020|12:16|IST

अगली स्टोरी

मोहम्मदाबाद गांव में कोटे के प्रस्ताव को लेकर हंगामा

मोहम्मदाबाद गांव में कोटे के प्रस्ताव को लेकर हंगामा

मोहम्मदाबाद गांव में मंगलवार को कोटे की दुकान का प्रस्ताव हो रहा था। समूह को कोटा देने की बात पर ग्रामीणों ने हंगामा कर दिया। मारपीट की नौबत बन आई थी। सूचना पर पुलिस पहुंची तो मामला शांत हुआ। कोटे का प्रस्ताव नहीं हो सका है। ब्लॉक से गए कर्मचारी वापस चले आए।

मोहम्मदाबाद गांव में कोटे का प्रस्ताव मंगलवार को होना था। प्रस्ताव कराने के लिए जेई एमआई कमलेश कुमार, ग्राम विकास अधिकारी अजय सिंह और ग्राम पंचायत अधिकारी सत्य प्रकाश पांडेय गांव पहुंचे। गांव में खुली बैठक बुलाई गई। प्रस्ताव में बताया कि समूह को कोटा दिया जाना है। दो समूह इसके दावेदार थे। ग्रामीणों की मांग थी कि कोटा आम आदमी को दिया जाए। इसके लिए चुनाव कराया जाए।

इसी बात को लेकर गांव में हंगामा होने लगा। जेई ने शासनादेश का हवाला देकर लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण अपनी जिद पर अड़े रहे। हंगामा करने लगे। मारपीट की नौबत बन आई थी। इस दौरान जेई व कर्मचारियों से उलझने की कोशिश की गई। उनके साथ अभद्रता भी की गई। सूचना पर कौशाम्बी थाना के इंस्पेक्टर हेमराज सरोज फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। मामले को शांत कराया गया। इंस्पेक्टर का कहना है कि कर्मचारियों के साथ कोई अभद्रता नहीं की गई। ग्रामीण अपनी मांग को लेकर अड़े थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Uproar over quota proposal in mohammadabad village